इस वोटिंग एप के चार करोड़ यूजर्स का निजी डाटा हुआ चोरी

पांच साल पहले के मुकाबले आज हैकिंग की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं। आए दिन फेसबुक डाटा लीक की रिपोर्ट्स सामने आती रहती हैं। अब एक ऐसे एप के डाटा लीक की रिपोर्ट सामने आई है जो एकदम अलहदा है। एक हैकर ने Wishbone के 40 मिलियन यानी करीब चार करोड़ यूजर्स का डाटा चोरी कर लिया है। बता दें कि Wishbone के वोटिंग है जिसपर लोग दो प्रोडक्ट के बारे में अपनी राय देते हैं।Wishbone के लीक हुए चार करोड़ डाटा कई हैकिंग फोरम्स पर बिक रहे हैं जिनकी कीमत है।

 बिक रहे डाटा में यूजर्स नेम, ई-मेल, फोन नंबर, देश/राज्य/शहर और पासवर्ड की भी जानकारी शामिल है।हैकर्स का दावा है कि पासवर्ड को SHA1 फॉर्मेट में रखा गया है, जबकि ZDNet के हाथ जो सैंपल लगा है उसके मुताबिक पासवर्ड MD5 फॉर्मेट में है। बता दें कि MD5 पासवर्ड का सबसे कमजोर फॉर्मेट है। इस फॉर्मेट में पासवर्ड साधारण टेक्स्ट के रूप में रहता है।लीक हुए डाटा में यूजर्स की प्रोफाइलस यूआरएल, पोल हिस्ट्री तक शामिल हैं। 

हैकर का दावा है कि इस साल की जनवरी में ही डाटा चोरी की। लीक डाटा में यूजर्स के रजिस्ट्रेशन का महीना जनवरी 2020 है, हालांकि यहां अभी यह स्पष्ट नहीं है कि किसी आम आदमी ने डाटा लीक किया है या फिर यह किसी हैकर का कारनामा है।इस लीक के जरिए करीब 10 कंपनियों के 1.5 अरब से अधिक डाटा बेचे जा रहे हैं। अधिकतर डाटा उन कंपनियों के हैं जो पिछले साल हैकिंग की शिकार हुईं थीं। बता दें कि Wishbone साल 2017 में भी हैक हुआ था जिसमें 0.2 करोड़ यूजर्स का डाटा लीक हुआ था। 

डार्क वेब पर लीक हुआ 2.9 करोड़ भारतीयों का डाटा

BSNL ने लॉन्च किया Eid 2020 का स्पेशल प्लान

डार्क नेट पर हो रही रक्त प्लाज्मा की अवैध बिक्री

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -