ग्रेजुएशन छात्रों के लिए खुशखबरी, अब सरकार देगी संस्थानों में इंटर्नशिप का मौका

Oct 20 2019 10:41 PM
ग्रेजुएशन छात्रों के लिए खुशखबरी, अब सरकार देगी संस्थानों में इंटर्नशिप का मौका

हाल ही में मिली खबर के अनुसार देश के प्रतिष्ठित संस्थानों या रैंकिंग में बेहतर प्रदर्शन करने वाले संस्थानों के स्नातक के विद्यार्थियों के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने इंटर्नशिप योजना 2019 की शुरुआत की है। यह इंटर्नशिप भारतीय नागरिक और विदेश में बसे भारतीय नागरिक के लिए है। इस योजना के तहत कम से कम दो साल या चार सेमेस्टर पूरा कर चुके स्नातक के छात्रों को भारत सरकार के उच्च शिक्षा विभाग, स्कूल विभाग और साक्षरता विभाग में दो महीने तक प्रशिक्षण दिया जाएगा। जरूरत पड़ी तो कुछ छात्रों की इंटर्नशिप अवधि को छह महीने तक बढ़ा दिया जाएगा।  हालांकि जो छात्र नवंम्बर या दिसंबर 2019 तक स्नातक का कोर्स पूरा कर चुकेंगे, उन्हें भी इस इंटर्नशिप कार्यक्रम में शामिल होने का मौका दिया जाएगा। इंटर्नशिप के लिए विधिवत रूप से भरे आवेदन प्राप्त करने की अंतिम तिथि 10 नवंबर 2019 है। मंत्रालय में अवर सचिव रत्नेश कुमार गुप्ता ने बताया कि इंटर्नशिप साल में दो बार कराया जाएगा। 

ध्यान देने वाली बात ये है की नवंबर/दिसंबर और अप्रैल/मई में होगा। इस योजना का मकसद युवा छात्रों को पारस्परिेक लाभ के लिए नीति निर्धारण, परियोजना कार्यान्वयन और शिक्षा की विभिन्न पहलों के लिए सहयोगी बनने का अवसर प्रदान करना है।  इंटर्नशिप  भारत सरकार के 15 विभागों या संस्थानों में  कराया जाएगा। इंटर्नशिप के लिए एक इंटर्न को प्रति माह 10 हजार रूपये का सांकेतिक स्टाइपंड (प्रशिक्षण भत्ता) दिया जाएगा। इंटर्न को उसकी इंटर्नशिप सफलतापूर्वक समाप्त होने पर ब्यूरो द्वारा एक प्रमाणपत्र जारी किया जायेगा। उसे इंटर्नशिप के दौरान इंटरकॉम, टेलीफोन, इंटरनेट, लेखन सामग्री उपलब्ध करायी जायेगी। इंटर्न से अपेक्षित है कि वे संबंधित ब्यूरो को अपने असाइनमेंट के अंत में अपने अनुभव के बारे में संक्षित रिपोर्ट प्रस्तुत करें।  

इस इंटर्नशिप को करने के लिए योग्यता है की  तीन या चार वर्षीय स्नातक कार्यक्रम में देश या विदेश में अध्ययनरत भारतीय और ओवरसीज सिटीजन ऑफ इंडिया कार्डधारी विद्यार्थी  या  राष्ट्रीय महत्व और उत्कृष्ट संस्थानों के स्नातक विद्यार्थी और  तकनीकी और प्रबंधन के वे विद्यार्थी जिनका संस्थान नेशनल इंस्टीट्यूट रैंकिंग में 50 वीं रैंकिंग तक हो साथ ही  विधि संस्थानों की श्रेणी में टॉप 10 संस्थानों के विधि में अध्ययनरत विद्यार्थी और  नेशनल इंस्टीट्यूट रैंकिंग फ्रेमवर्क 2019 में 50वीं रैंक तक के संस्थानों के विद्यार्थी साथ में  वैश्विक स्तर पर 100वीं क्यू एस रैंकिंग में आने वाले संस्थानों के विद्यार्थी

अब विश्वविद्यालय मनमानी फीस नहीं वसूल पाएंगे, सरकार ने कैसा शिकंजा

प्राइवेट आईटीआई पर सरकार कसेगी नकेल, 24 अक्टूबर तक दिया समय

प्रतियोगी परीक्षाओ की तैयारी कर रहे है तो ये खबर है आपके लिए ,NTA ने किया बड़ा बदलाव