आगरा में अपना कारोबार खोलेगी यह मशहूर जर्मन कंपनी, चीन से किया किनारा

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी के बीच भारत के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है. जर्मनी की कंपनी कासा ऐवर जिम्ब अपना लाखों डॉलर का शू एक्सपोर्ट का कारोबार चीन से समेट कर भारत ला रही है. भारत की जूता निर्यातक कंपनी आई ट्रैक और जर्मनी की कंपनी कासा ऐवर जिम्ब (Casa Everz Gmbh) के बीच इस सम्बन्ध में एक करार हुआ है.

भारत में तैयार होने जा रहे इस ब्रांड का नाम है वॉन वैल्स जर्मनी- 5 जोन (Von wellx Germany-5 जोन). भारत में कंपनी के आने से 10 हजार लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार प्राप्त होगा, इसके साथ ही करोड़ों डॉलर का बिजनेस भी होगा.जर्मन कंपनी कासा ऐवर जिम्ब ने उत्पादन चीन के बजाय भारत में करने का निर्णय लिया है. उत्तर प्रदेश कि योगी आदित्यनाथ सरकार कंपनी को सहयोग के लिए तैयार है. बता दें कि फुटवियर सेक्टर में यह पहला करार है, जो जर्मन तकनीक और भारतीय जनसांख्यिकीय को ध्यान में रखकर किया गया है.

इसमें मुख्य बात तकनीक की है, जो भारत में अभी तक मौजूद नहीं है. यह पूरी तरह से एक्सपोर्ट यूनिट होगी और इससे भारत के निर्यात को बढ़ावा मिलेगा. इससे ना सिर्फ भारत की साख बढ़ेगी बल्कि विदेशी मुद्रा भी मिलेगी. कंपनी के लिए यूपी के आगरा में एक प्लांट स्थापित किया जाएगा. य​​ह कंपनी सेहत दुरुस्त रखने वाले जूते तैयार करती है.

लॉकडाउन: ई-कॉमर्स कंपनियों को मिल सकती है छूट, बस राज्यों से अनुमति का इंतज़ार

Swiggy पर कोरोना की मार, 1100 कर्मचारी किए जाएंगे निष्काषित

लॉकडाउन-4 में सोने ने रचा इतिहास, चांदी में भी जबरदस्त उछाल

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -