पंचायत ने गैंगरेप के आरोपियों को सुनाई 5-5 जूते मारने की सजा

Jan 21 2016 03:16 PM
पंचायत ने गैंगरेप के आरोपियों को सुनाई 5-5 जूते मारने की सजा

बागपत : गैंगरेप के आरोपियों को पंचायत ने सिर्फ पांच पांच जूते मारने का फरमान सुनाकर उन्हें अभयदान दे दिया. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक यह पूरा ही मामला उत्तर प्रदेश बागपत में बालैनी थाना क्षेत्र के गांव का है. आपको बता दे कि जहां पर भारत में गैंगरेप जैसे संगीन अपराध पर उम्रकैद के साथ-साथ फांसी तक देने का प्रावधान है ऐसे में नाबालिग छात्रा के साथ में गैंगरेप के इन तीनो ही आरोपियों को पंचायत ने पांच पांच जूते मारने का फरमान सुना उन्हें छोड़ दिया. जो की अभी भी गांव में खुले घूम रहे है.

पूरा ही मामला कुछ इस प्रकार है कि मंगलवार को यह पीड़ित छात्रा अपनी सहेली के साथ में स्कुल जा रही थी. उसने रास्ते में एक कैंटर चालक से स्कुल में जल्दी पहुंचने के लिए लिफ्ट मांगी इस कैंटर में पहले से ही दो स्कूली छात्र स्कुल जाने के लिए बैठे थे. फिर आगे चलकर उस कैंटर के चालक ने छात्रा की सहेली को बीच रास्ते में ही छोड़कर उसे यह कहकर उतार दिया की आपकी यह सहेली कुछ ही देर में स्कुल पहुंच जाएगी.

परन्तु बाद में यह छात्रा स्कुल में नही पहुंची. इस दौरान इन कैंटर के चालक ने व उन दो छात्रों ने नाबालिग छात्रा के साथ में गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. पीड़िता ने इस पूरी ही वारदात की जानकारी अपने परिवार वालो को बताई, तथा मामला बढ़ता देख तुरंत ही गांव में पंचायत बैठाई गई व पंचायत के द्वारा यह तुगलकी फरमान सुना दिया गया.