आज इन मन्त्रों के साथ करें गणपति विसर्जन, होगा महालाभ

गणेश चतुर्थी पर्व का आज आखिरी दिन है। आप जानते ही होंगे गणेश उत्सव 10 दिनों तक चलता है। ऐसे में आज अनंत चतुर्दशी है और इसी दिन गणेश विसर्जन होता है। ऐसे में इस साल गणेश विसर्जन 19 सितंबर 2021 यानी रविवार के दिन हो रहा है। आपको बता दें कि गणपति विसर्जन के दौरान कुछ मंत्रों का जाप करने से श्री गणेश की विशेष कृपा होती है। अब हम आपको बताते हैं भगवान गणेश के विसर्जन मंत्र।

भगवान गणेश के विसर्जन मंत्र- 
– ॐ गणाधिपाय नम:
– ॐ उमापुत्राय नम:
– ॐ विघ्ननाशनाय नम:
– ॐ विनायकाय नम:
– ॐ ईशपुत्राय नम:
– ॐ सर्वसिद्धप्रदाय नम:
– ॐ एकदन्ताय नम:
– ॐ इभवक्त्राय नम:
– ॐ मूषकवाहनाय नम:
– ॐ कुमारगुरवे नम:

इन मन्त्रों के जान के बाद श्री गणेश की आरती करें और विसर्जन स्थल पर ले जाकर पुन: एक बार आरती करें। इसके बाद श्री गणेश की प्रतिमा जल में विसर्जित कर दें और यह मंत्र बोलें- यान्तु देवगणा: सर्वे पूजामादाय मामकीम्। इष्टकामसमृद्धयर्थं पुनर्अपि पुनरागमनाय च ॥

भगवान गणेश का मुख्य मंत्र - 'ॐ गं गणपतये नमः'

श्री गणेश का षडाक्षर विशिष्ट मंत्र  - 'वक्रतुण्डाय हुं'

रोजगार और आर्थिक समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए मंत्र - 'ॐ श्रीं गं सौभ्याय गणपतये वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा'

विवाह और योग्य जीवनसाथी पाने के लिए मंत्र- 'ॐ वक्रतुण्डैक दंष्ट्राय क्लीं ह्रीं श्रीं गं गणपते वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा'

'सोनिया बोलीं- सॉरी अमरिंदर', कैप्टन बोले- 'सिद्धू गलत आदमी हैं,पार्टी को बर्बाद कर देंगे'

आखिर कौन होगा पंजाब का नया मुख्यमंत्री, रेस में ये नाम हैं शामिल

इस शुभ मुहूर्त में करें बप्पा का विसर्जन, यहाँ जानिए पूरी विधि

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -