काटजू ने बोस को जापानी 'एजेंट' तो टैगोर को बताया ब्रिटिश 'कठपुटली'

Sep 15 2015 02:58 PM
काटजू ने बोस को जापानी 'एजेंट' तो टैगोर को बताया ब्रिटिश 'कठपुटली'

नई दिल्ली : अक्सर अपने विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायमूर्ति मार्कण्डेय काटजू ने फिर एक विवादित बयान दिया है. इस बयान में पूर्व जस्टिस काटजू ने सुभाष चंद्र बोस को 'जापानी एजेंट' और रविंद्रनाथ टैगोर को 'ब्रिटिश कठपुतली' बताया है. अपने फेसबुक पेज पर काटजू ने लिखा कि वे जल्द ही कोलकाता आ रहे हैं. उन्होंने कहा है कि बोस एक अति महत्वाकांक्षी व्यक्ति थे और इसी कारण वे जापानी एजेंट बन गए. इसके साथ ही काटजू ने स्वीकारा है कि इस घटना के बाद भले ही लोग नाराज हो जाएं लेकिन वे सच जरूर बताएंगे.

गौरतलब है कि कुछ महीनों पहले काटजू ने महात्मा गांधी को भी अंग्रेजों का एजेंट बताया था अपने ब्लॉग में काटजू ने लिखा था कि महात्मा गांधी अंग्रेजों के एजेंट थे जिन्होंने भारत को नुकसान पहुंचाया. काटजू ने लिखा है कि गांधी अंग्रेजों के ‘फूट डालो और राज करो’ की नीति पर काम करते थे.

इससे पहले भी मार्कंडेय काटजू का ब्लॉग विवाद में रहा है. काटजू ने अपने ब्लॉग के जरिए ही अभिनेत्री कैटरीना कैफ को देश की राष्ट्रपति बनाने की सिफारिश भी की थी.