सलमान फिर फंस सकते है मुश्किलों में....

बॉलीवुड के दबंग अभिनेता सलमान खान के हिरण शिकार मामले में सुनने में आया है की उनकी मुश्किलें और भी बढ़ सकती है. खबरों के मुताबिक अभियोजन पक्ष ने आज राजस्थान उच्च न्यायालय को बताया कि फॉरेंसिक विज्ञानं प्रयोगशाला (एफएसएल) टीम की ओर से दो जगहों से इकट्ठा किए गए खून और बाल के नमूनों से पता चलता है कि मारा गया हिरण एक विलुप्तप्राय चिंकारा था. इस केस में कोर्ट की जज ने दोहराया कि हमने राजस्थान के उजलिया भाकर नाम के स्थान पर से खून से सने मिटटी के नमूने एकत्रित किये थे.

उजलिया भाकर में ही 1998 में कथित तौर पर अभिनेता सलमान खान ने एक चिंकारा को मार डाला था. कोर्ट के अतिरिक्त महाधिवक्ता केएल ठाकुर ने अपने बयान में कहा कि जाँच टीम ने  राजस्थान के जोधपुर से करीब 40 किलोमीटर दूर मथानिया में घोड़ा फार्म से बाल के नमूने इकट्ठा किए थे.

ठाकुर ने कहा कि 'एफएसएल टीम की रिपोर्ट में साफ तौर पर जिक्र है कि दोनों जगह से इकट्ठा किए गए खून और बाल के नमूने किसी चिंकारा के थे, इससे दोनों सरकारी गवाहों- हरीश दुलानी और गोवर्धन सिंह के इस बयान को बल मिलता है कि खान ने उजलिया भाकर में चिंकारा की हत्या की और फिर उसके शव को साफ-सफाई के लिए फार्म हाउस ले गए.' 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -