भारतीय शेयर बाजार पर कोरोना का असर, विदेशी निवेशकों ने निकाले 5 अरब डॉलर

नई दिल्ली: विदेशी निवेशकों ने मार्च में समाप्त हुई तिमाही में भारतीय शेयर बाजार में भारी बिकवाली की है. भारत केंद्रित विदेशी फंडों और ईटीएफ से लगभग 5 अरब डॉलर (भारतीय मुद्रा अनुसार 37,500 करोड़ रुपये) की राशी निकाल ली गई है. विदेशी निवेशक इन फंडों और एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) के जरिए भारतीय शेयर बाजार में निवेश करते हैं. 

पहले की तिमाही यानी दिसंबर तिमाही में इन फंडों से केवल 2.1 अरब डॉलर की बिकवाली दर्ज की गई थी. मार्निंगस्टार इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, निरंतर आठवीं तिमाही ऐसी रही है जिसमें विदेशी फंडों में बिकवाली हावी रही है. मार्च तिमाही के दौरान विदेशी फंडों के द्वारा शुद्ध रूप से 3.6 अरब डॉलर निकाले गए हैं, जबकि विदेशी ईटीएफ के जरिए 1.4 अरब डॉलर की राशी निकाली गई है. 

असल में कोरोना वायरस के कहर और लॉकडाउन के कारण जोखिम से बचने के लिए विदेशी निवेशक अपना पैसा निकाल रहे हैं. मॉर्निंगस्टार ने कहा है कि, 'लॉकडाउन का ऐलान होने पहले भी माहौल बहुत प्रेरक नहीं था. आर्थिक ग्रोथ में काफी सुस्ती और कंपनियों की कमाई के परिणामों को लेकर चिंता बनी हुई थी.' ​आपको बता दें कि ऑफशोर या विदेशी फंड वह होता है, जो भारत में नहीं होता बल्कि विदेश में रहकर भारतीय शेयर बाजार में निवेश किया जाता है. ये ऐसे कुछ प्रमुख निवेश साधन हैं जिनके जरिए विदेशी निवेशक भारतीय बाजार में निवेश कर सकते हैं.

Gold : घरेलू बाजार में लुढ़का सोना, जानें क्या है नया दाम

Bharti Airtel : कंपनी को हुआ घाटा, वित्त वर्ष 2019-20 के आंकड़े रहे ​नकारात्मक

इन शहरों को साफ-सफाई के मामले में मिली 5 स्टार रेटिंग

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -