फेसबुक फ्री बेसिक्स का फायदा केवल रिलायंस कों: वोडाफ़ोन

फेसबुक फ्री बेसिक्स का फायदा केवल रिलायंस कों: वोडाफ़ोन

फेसबुक ने इन्टरनेट डॉट.आरओजी नाम से फ्री बेसिक सुविधा साल 2013 में अपनी विशेष परियोजना के तहत लागु की थी. जिसके अंतर्गत फेसबुक अपने यूजर को फ्री बेसिक (बिना शुल्क के) सुविधा मुहैया कराना चाहता था. इस परियोजना के अंतर्गत फेसबुक यूजर बिना किसी डाटा शुल्क के फेसबुक चला पाएंगे. 36 देशो में इसे लागु भी कर दिया गया है. फेसबुक ने भारत में रिलायंस के साथ अपनी इस योजना की शुरुवात की. 

इसके बाद ट्राई के अध्यक्ष आरएस शर्मा ने कहा कि भारत में इन्टरनेट प्रदान करने वाली कंपनियों कों एक ही वेबसाइट के अलग अलग शुल्क लेने की इज़ाज़त नहीं होगी. किसी कंपनी को नियम का उलंघन करने पर 50000 का जुर्माना भरना पड़ेगा.

भारतीय टेलिकॉम नियामक संस्था (ट्राई) के इस फैसले के बाद फेसबुक कों बड़ा झटका लगा था. वोडाफ़ोन के प्रमुख वित्तोरियो कोलाओ ने फेसबुक के फ्री बेसिक्स सुविधा पर कहा कि भारत में फेसबुक फ्री बेसिक्स का लाभ केवल रिलायंस कम्युनिकेशन कों मिल रहा था. फेसबुक ने रिलायंस के साथ मिल कर बेसिक इन्टरनेट सर्विसेस बिना किसी शुल्क के देने की घोषणा की थी. जिसका भारत में विरोध हुआ था. लोगो का कहना था कि इस सुविधा से नेट न्यूट्रैलिटी के सिधान्तो का उलंघन हो रहा है.

फेसबुक प्रमुख मार्क जुकरबर्ग ने व्यापक अभियान चलाकर सोशल मीडिया यूजर से इसके समर्थन में ट्राई से अपील करने कों कहा था. कोलाओ ने कहा कि “भारतीय टेलिकॉम नियामक संस्था ने यह साफ तोर पर स्पष्ट कर दिया है कि वह नहीं चाहती कि कोई एक बड़ी कंपनी प्रतिस्पर्धा में दूसरी बड़ी कंपनी का फायदा उठाये. इस मुद्दे पर फ़िलहाल पूरे विश्व में बहस जारी है.” 

आपको बता दे कि भारत में इन्टरनेट उपयोग करने वालों की संख्या 30 करोड़ से ज्यादा है. जिसमे से 50% लोग मोबाइल पर इन्टरनेट इस्तेमाल करते है. भारत इन्टरनेट उपयोग करने के मामले में दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा देश है.