+

बीएचयू नियुक्ति विवादः अब कला संकाय के लिए इंटरव्यू देंगे डॉ. फिरोज खान

बीएचयू नियुक्ति विवादः अब कला संकाय के लिए इंटरव्यू देंगे डॉ. फिरोज खान

वाराणसी: कुछ समय पहले ही काशी हिंदू विश्वविद्यालय, बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय (एसवीडीवी) में असिस्टेंट प्रोफेसर नियुक्त डॉ. फ़िरोज़ खान का बुधवार को कला संकाय के संस्कृत विभाग के लिए साक्षात्कार देंगे. जंहा इससे पहले वह 29 नवंबर 2019 को आयुर्वेद संकाय में भी साक्षात्कार दे चुके हैं, जिसका परिणाम आना बाकी है. इस विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर पद पर साक्षात्कार में फिरोज समेत आठ अभ्यर्थी शामिल हुए थे.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार होलकर हाउस में बुधवार सुबह 8 बजे से होने वाले साक्षात्कार के लिए बनी 39 अभ्यर्थियों वाली मेरिट सूची में फिरोज 11वें नंबर पर हैं. सूत्रों के अनुसार, संस्कृत विभाग का परिणाम आने के बाद फिरोज प्रकरण का पटाक्षेप हो सकता है. उधर, एसवीडीवी संकाय के छात्र बीते सोमवार से डॉ. फिरोज की नियुक्ति के खिलाफ धरनारत हैं. जंहा वह संकाय प्रमुख, विभागाध्यक्ष पर नियमों की अनदेखी कर फिरोज की नियुक्ति का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. 

बीएचयू प्रशासन ने फिर दिया जवाब: जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि एसवीडीवी संकाय के छात्रों के पांच सवालों में से तीन का जवाब बीएचयू प्रशासन ने सोमवार को ही दे दिया था, जबकि दो सवालों का जवाब बीते मंगलवार को दिया गया. जंहा रिक्रूटमेंट सेल में ज्वाइंट रजिस्ट्रार की ओर से संकाय प्रमुख को भेजे गए जवाब की कॉपी छात्रों को दी गई, लेकिन छात्र इससे संतुष्ट नहीं हैं. जिन दो सवालों का जवाब दिया जाना बाकी था, उसमें छात्रों ने पूछा था कि डॉ. फिरोज की नियुक्ति विश्वविद्यालय संविधान के अनुसार हुई है या नहीं. इस पर जवाब मिला कि विश्वविद्यालय के अधिनियमों, संविधान और यूजीसी के विनियम 2018 के प्रावधानों के अनुसार नियुक्ति हुई है. लेकिन छात्र इससे संतुष्ट नहीं हुए और धरना जारी रखने का निर्णय लिया.

दूसरी औरत से हैं पति के नाज़ायज़ सम्बन्ध, इसलिए पत्नी को दे दिया तीन तलाक

सिंगर गा रही थी 'ओए गोरिये, गोली चल जाएगी' तभी चली गोली और उड़ गया जबड़ा

तीन बच्चों संग माँ ने लगाई आग, सास-ससुर को बताया वजह