भूल से भी इन 5 पंडितों से न कराएं घर की पूजा

सभी व्यक्ति के घर कभी न कभी कोई शुभ कार्य या धार्मिक कार्य अवश्य होता है जिसको विधि पूर्वक संपन्न कराने के लिए किसी पंडित की आवश्यकता होती है. क्योंकि पंडित वह है जिसे भगवान का दूत माना जाता है इसी कारण से सभी शुभ व धार्मिक कार्यो में पंडित का महत्वपूर्ण स्थान होता है. किन्तु क्या आप जानते है की कोई भी पूजा चाहे वह घर की सुख शान्ति के लिए हो या फिर पितरो को शांत करने के लिए सभी व्यक्ति के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होती है इसी कारण से इन्हें संपन्न कराने वाला भी सही होना चाहिए. इसी विषय में गरुड़ पुराण में भी कहा गया है की कुछ ब्राम्हणों व पंडितों से पूजा आदि कार्य नहीं करवाना चाहिए. तो आइये जानते है उन पंडितों के विषय में जिससे व्यक्ति को पूजा आदि नहीं करवाना चाहिए.
1. वह पंडित जो शनि का दान लेता है या दुर्जनों से किसी प्रकार की मित्रता रखता है उससे अपने घर में कभी भी पूजा नहीं करवाना चाहिए.

2. जो पंडित टोना टोटका करते है उनसे कभी भी यज्ञ, हवन, पूजा या श्राद्ध नही करवाना चाहिए इन पंडितों से श्राद्ध करवाने से पितरों की आत्मा को नरक जाना होता है.

3. पुराणों के अनुसार इन चार पंडितों से कभी भी पूजा नहीं करवाना चाहिए. बकरी पालने वाला, चित्रकार, वैध और ज्योतिषी यदि आप इन चारों पंडितों में से किसी से भी पूजा करवाते है तो आपको अपनी पूजा का फल प्राप्त नही होता है.

4. जो पंडित बोल नहीं पाता है या जिसकी एक आँख हो या जिसे बहुत क्रोध आता हो ऐसे पंडित से भी पूजा नहीं करवाना चाहिए.

5. जिस पंडित के मन में लालच भरा होता है या जिसे वेदों का ज्ञान नहीं होता है ऐसे पंडित भी पूजा करवाने के योग्य नहीं होते है.

 

बड़े से बड़े टोटके ऐसे हो जाएंगे विफल

आपके यही काम दुर्भाग्य को कर रहे आमंत्रित

ऐसे ही लोग अपने जीवन में हमेशा होते रहते हैं असफल

हर मां बाप का होगा सपना पूरा, ससुराल में मिलेगा लड़की को सुख

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -