Share:
दिल्ली में आज से योगशालाएं बंद, सीएम केजरीवाल बोले- वो जितने भी तीर चलाएंगे, उन्हें मैं...
दिल्ली में आज से योगशालाएं बंद, सीएम केजरीवाल बोले- वो जितने भी तीर चलाएंगे, उन्हें मैं...

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के लोगों को मुफ्त में योग सिखाने के लिए केजरीवाल सरकार की योगशालाएं आज से बंद हो गईं, क्योंकि उपराज्यपाल (LG) वीके सक्सेना ने इसके लिए अपनी मंजूरी नहीं दी। वहीं अब इसे लेकर दिल्ली सीएम और आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने LG विनय कुमार सक्सेना पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि दिसंबर 2021 में दिल्ली की योगशाला आरम्भ की थी, बीते 11 माह से 590 योग क्लास चल रही थी, 17 हजार लोग लाभ ले रहे थे, इसे और आगे बढ़ाना था। मुझे दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि आज से ये योगा क्लास बंद कर दी गई है, ये काफी दुख की बात है।

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा कि लोगों में इसे लेकर बहुत गुस्सा है, खबर पढ़कर बहुत लोगों के फोन आए, शिक्षकों ने कहा कि हम बगैर फीस के योग कराएंगे। मैं आज कहता हूं कि ये योग क्लास बंद नहीं होने देंगे, मुझे यदि घर-घर कटोरा लेकर भीख मांगनी पड़े, तो भी योगा क्लास शुरू कराउंगा, शिक्षकों का खर्चा देंगे। केवल 17 हजार नहीं, 17 लाख और फिर 2 करोड़ लोगों को जोड़ेंगे, पंजाब में भी और सरकार बनने के बाद गुजरात में भी योग क्लासेज शुरू करेंगे। दरअसल दिल्ली सरकार के सूत्रों ने सोमवार (31 अक्टूबर) को बताया था कि दिल्ली फार्मास्युटिकल साइंसेज एंड रिसर्च यूनिवर्सिटी (DPSRU) के बोर्ड ऑफ गर्वनेंस से इस कार्यक्रम को जारी रखने की स्वीकृति मिलने के बाद भी LG ने इसे मंजूरी नहीं दी, जिसके कारण अब 1 नवंबर से इस प्रोग्राम को बंद करना पड़ रहा है, यानी आज (मंगलवार) से योग क्लासेज नहीं चलेंगी।

इस पर सीएम केजरीवाल ने कहा कि इन्होंने सत्ता के नशे में दिल्ली की दीपावली नहीं मनाने दी, रेडलाइट ऑन गाड़ी ऑफ नहीं होने दिया,अब मुझे पता चला है ये मोहल्ला क्लिनिक में मुफ्त दवाई और जांच के टेंडर को भी रोकने वाले हैं, मगर आप चिंता ना करें, आपका बेटा (केजरीवाल) है, वो दिल्ली का कोई काम नहीं रुकने देगा। उपराज्यपाल और केंद्र दिल्ली वालों पर जितने तीर चलाएंगे, उन्हें मैं अपने उपर ले लूंगा। केजरीवाल ने कहा कि LG साहब को फाइल भेजी गई थी, वो काफी गाली गलौज करते हैं, केजरीवाल इम्पोर्टेंट नहीं है, वो मुझे नहीं दिल्ली के निर्वाचित सीएम, यानि दिल्ली की जनता का अपमान करते हैं, वो सही नहीं है।

हालाँकि, सुकेश चंद्रशेखर के मामले पर सवाल पूछे जाने पर केजरीवाल ने यह कहते हुए पल्ला झाड़ लिया कि वो कौन है? बता दें कि, तिहार जेल में कैद महाठग सुकेश ने LG को पत्र लिखते हुए दावा किया है कि वह सत्येंद्र जैन को 2015 से जानता है और उसने AAP को 50 करोड़ रुपये दिए हैं। इसके एवज में पार्टी ने उसे दक्षिण भारत में बड़ा पद देने का वादा किया था और राज्यसभा में नॉमिनेट करने का भी आश्वासन दिया था। सुकेश ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि 2017 में पार्टी सिंबल केस में जब मुझे गिरफ्तार किया गया और मैं तिहाड़ जेल में कैद था, इस दौरान दिल्ली के जेल मंत्री सत्येंद्र जैन कई दफा आकर मुझे मिले। इस दौरान उन्होंने मुझसे कई बार पूछा कि अरेस्ट करने वाली जांच एजेंसी को मैंने AAP को जो पैसे दिए हैं, उस संबंध में कोई जानकारी तो नहीं दी है। इस पूरे मामले पर केजरीवाल का कहना है कि सुकेश कौन है, उन्हें नहीं पता। बता दें कि, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बीते 5 महीने से भ्रष्टाचार के मामले में जेल में हैं और उन्हें जमानत भी नहीं मिल रही है। दरअसल, ED की पूछताछ में जैन कह चुके हैं कि उनकी याददाश्त जा चुकी है और उन्हें कुछ याद नहीं, इससे उनपर लगे आरोप और गंभीर हो गए हैं।  

'डरी हुई है हेमंत सरकार', आखिर क्यों बाबूलाल मरांडी ने कही ये बात?

'गोली मारने पर मिलेगा एक लाख का इनाम', इस नेता के बयान पर मचा बवाल

'टाटा के उस अधिकारी का नाम बताओ', ठाकरे ने दी फडणवीस को चुनौती

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -