गौमूत्र से शुद्ध होगा अखलाक का गांव

दादरी​ : दादरी के बिसाहेड़ा गांव में गौमांस रखने की अफवाह के चलते अखलाक की हत्या की गई थी। मगर अब यह बात सामने आई है कि इस क्षेत्र को गौमूत्र से शुद्ध किया जाएगा। आश्चर्य की बात यह है कि इस शुद्धिकरण में गौ मूत्र का उपयोग होगा। हाल ही में यह जानकारी एक प्रतिष्ठित समाचार पत्र समूह के हवाले से सामने आई है। दरअसल बीसाहेड़ा गांव की फिज़ा की शुद्धता के लिए अलग ही प्रयोग हो रहा है।

दरअसल इस क्षेत्र में गौमूत्र का छिड़काव किया जा रहा है। शुद्धिकरण के लिए बनारस से साध्वी को निमंत्रित किया गया है। समाजसेवी एचके शर्मा द्वारा कहा गया कि शुद्धिकरण के बाद सामाजिक सौहार्द बनाए रखने के लिए पदयात्रा निकाली जा रही है। पदयात्रा में समाज के लोगों द्वारा भागीदारी की जाएगी। हालांकि प्रशासन से किसी तरह के शुद्धिकरण कार्यक्रम की अनुमति नहीं मांगी गई है।

दूसरी ओर गांव के आठ लोगों को अखलाक की मौत का आरोपी बना दिया गया है। अखलाक के परिजन से ये लोग नाराज़ बताए जा रहे हैं। अखलाक की बेटी शाइस्ता द्वारा गवाही दी गई है। जिसमें यह कहा गया है कि गांव के लोगों को आरोपी बना दिया गया। हालांकि फिलहाल जांच कार्रवाई चल रही है।

ऐसे में अखलाक के बेटे दानिश का बयान लिए जाने की बात सामने आई है। यह जानकारी मिली है कि अखलाक के बेटे दानिश का बयान लिया जाएगा। आवश्यकता पड़ने पर गांव में मौजूद आरोपियों को पकड़ा जा सकता है। उल्लेखनीय है कि बिसाहेड़ा गांव में गौमांस पकाने के संदेह में भीड़ द्वारा मोहम्मद अखलाक  नाम के व्यक्ति की हत्या कर दी गई थी तो दूसरी ओर उसके बेटे को पीटपीटकर अधमरा कर दिया गया था। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -