कोविड से उबरने के बाद भी लोगों की हालत खराब, WHO ने दी चेतावनी

कोरोना महामारी (Corona Pandemic) इस समय दुनियाभर में कोहराम मचा रही है। आप सभी को बता दें कि कोरोना महामारी का नया ओमीक्रॉन वेरिएंट (Omicron Variant) कई देशों में तेजी से फैल रहा है। इस समय लोग इस महामारी का शिकार होने के बाद जल्दी ठीक भी हो रहे हैं। हालाँकि इस बीमारी से ठीक हो रहे लोगों में लंबे समय तक इसका प्रभाव बना रहता है। इस वजह से लोग कोविड से उबरने के बावजूद अपने आप को पहले जैसा महसूस नहीं कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ विश्व स्वास्थ्य संगठन भी लोगों को चेतावनी दे रहा है ​कि कोरोना वायरस (Coronavirus) लंबे वक्त तक किसी व्यक्ति को प्रभावित कर सकता है।

आप सभी जानते ही होंगे कि, 'कोरोना वायरस मनुष्य के शरीर के श्वसन तंत्र पर हमला करता है। हालांकि महामारी के दौरान इसके लक्षणों और इलाज की सब बात करते हैं लेकिन लॉन्ग कोविड या पोस्ट कोविड के बारे में चर्चा कम ही होती है।' आपको बता दें कि पोस्ट कोविड को मतलब है कि इस बीमारी से उबरने के बाद के लक्षण। ऐसे में कोविड-19 महामारी से जुड़े ऐसे कई मामले सामने आए हैं, जब इससे ठीक होने के बाद भी लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

बीते दिनों ही LongCovidSOS नामक ट्विटर पेज पर लॉन्ग कोविड से जुड़े विषय को मीडिया द्वारा ज्यादा तवज्जो न देने पर चर्चा की गई। उस ट्वीट में यह कहा गया कि ऐसा लगता है कि किसी भी मीडिया ब्रीफिंग, सिफारिश या पॉलिसी में लॉन्ग कोविड से जुड़ी बातों का कोई जिक्र नहीं हुआ है। ऐसे में जरुरत है कि वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन, दुनिया के लोगों को, विशेष रूप से विकासशील देशों की सरकारों को लॉन्ग कोविड से जुड़े प्रभावों के बारे में जानकारी दे। जी हाँ और इसमें बताया गया है कि किस तरह से कोरोना के हल्के लक्षण भी लंबे समय तक व्यक्ति को प्रभावित कर सकते हैं। आपको बता दें कि अमेरिका में महामारी विशेषज्ञ, मारिया वॉन ने इस मामले पर संज्ञान लेते हुए कहा, 'डब्ल्यूएचओ को लॉन्ग कोविड को लेकर लगातार काम करना होगा।'

जी दरअसल इस ट्वीट में मारिया ने लिखा कि, 'हमें लोगों को सूचित करते रहना होगा और हमें पोस्ट कोविड लक्षण के बारे में बेहतर रिसर्च की आवश्यकता है। इसके साथ ही ऐसे लोग जो कोरोना के बाद भी कुछ स्वास्थ्य समस्याओं से परेशान हैं, उनकी अच्छी तरह से काउंसिलिंग की जाए। दरअसल लॉन्ग कोविड लक्षणों का ऐसा समूह है जो स्वस्थ होने के बाद भी मानव शरीर को प्रभावित कर रहा है। इसमें थकान, अनिद्रा, सहनशक्ति में कमी, गंध की कमी जैसे कुछ लक्षण शामिल हैं।'

ऋतिक संग काम करने के लिए उत्साहित हैं दीपिका, कही ये बात

WWE के इतिहास में पहली बार हुआ उलटफेर, Roman Reigns को मिली हार

बेजुबान जानवर को इतना पीटा कि कर दिया लहूलुहान, मेनका गांधी के फ़ोन से दर्ज हुई FIR

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -