101 दिन में इस शहर में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 400 के पार पहुंचा

Jul 01 2020 11:54 AM
101 दिन में इस शहर में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 400 के पार पहुंचा

जबलपुर: मध्य प्रदेश के जबलपुर में कोरोना कहर बरपा रहा है. शहर के जिला अस्पताल विक्टोरिया में स्थापित टू नेट स्क्रीनिंग व मेडिकल कॉलेज अस्पताल की वायरोलॉजी लैब से सोमवार को जारी रिपोर्ट में चावल व्यापारी, बीमा कर्मी व मां-बेटा कोरोना वायरस के शिकार मिले. इस संबंध में  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रत्नेश कुरारिया ने बताया है कि पीड़ित मरीजों में जवाहरगंज वार्ड गढ़ाफाटक निवासी 45 वर्षीय महिला तथा उनका 18 साल का बेटा, सिविल लाइन साईं मंदिर के सामने निवासी 65 वर्षीय वृद्घ तथा यादव कॉलोनी निवासी जनरल इश्योरेंस कंपनी का 37 वर्षीय कर्मचारी शामिल मिला है. सिविल लाइन निवासी वृद्ध निवाड़गंज में चावल का क्रय विक्रय का काम करते है. 

हालांकि जिले में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 400 पहुंच गया है. इनमें 315 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं तथा एक्टिव केस 71 बचे हैं. कोरोना संक्रमित 14 मरीजों की जान जा चुकी है. सोमवार को पॉजिटिव मिले मरीजों की कांटेक्ट हिस्ट्री का अभी पता लगाया जा रहा है. इधर, सोमवार को मेडिकल कॉलेज सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से कोरोना से स्वस्थ हुए तीन लोगों को छुट्टी दे दी गई है. मालूम हो कि प्रदेश में जबलपुर से कोरोना संक्रमण की शुरुआत 20 मार्च से हो गई थी. 

बता दें की शहर की एक इश्योरेंस कंपनी का 37 वर्षीय कर्मचारी सागर व नरसिंहपुर जिले के प्रभार में है. वह अक्सर इन जिलों में कंपनी के कामकाज से आना जाना करता रहता है. 16 जून को वह सागर स्थित भारतीय स्टेट बैंक के क्षेत्रीय कार्यालय गया था. वहां का एक कर्मचारी कोरोना संक्रमित मिला. आशंका ये जताई जा रही है कि बैंक व बीमा कर्मी के संपर्क में आने से वे कोरोना का शिकार हुए. बीमा कर्मी 21 जून को सागर से जबलपुर लौटा था. जिसके बाद से उसकी तबीयत खराब रहने लगी थी. सैंपल की जांच में वह कोरोना पॉजिटिव निकला. 

खरगोन में बढ़े कोरोना के मामले, पांच और संक्रमित मिले

मध्य प्रदेश में शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार एक बार फिर टला

भोपाल में जारी है कोरोना का कहर, 44 नए पॉजिटिव मिले