मध्य प्रदेश में शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार एक बार फिर टला

मध्य प्रदेश में  शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार एक बार फिर टला

भोपाल : मध्य प्रदेश में  राजनीतिक हलचल थमने का नाम नहीं ले रही है. वहीं प्रदेश के शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार एक बार फिर आगे बढ़ गया है. इसके संकेत खुद मुख्यमंत्री ने मंगलवार की शाम को मीडिया को दिए है. इस बारें में उन्होंने एक-दो दिन के भीतर मंत्रिमंडल विस्तार की संभावना जताई है. इसके अलावा उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल बुधवार को भोपाल पहुंची. हालांकि उन्हें मध्य प्रदेश का कार्यवाहक राज्यपाल नियुक्त किया गया है. मप्र उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश एके मित्तल उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाने वाले है.

वहीं राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के देर रात भोपाल आगमन के अधिकृत कार्यक्रम के बाद इस बात की संभावना और बढ़ गई है कि कैबिनेट विस्तार गुरुवार को हो सकता है. मुख्यमंत्री शिवराज दो दिन दिल्ली में रुकने के बाद मंगलवार को सुबह भोपाल वापस लौट आए. मुख्यमंत्री शिवराज के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत भी वापस लौट आए है.

जानकारी के लिए बता दें की तीनों दिग्गज रविवार से केंद्रीय नेतृत्व के साथ मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर बातचीत कर रहे थे, लेकिन सभी मुद्दों पर सहमति नहीं बन पाई थी. यही कारण था कि सीएम और भाजपा ने मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर मौन साधे रखा हुआ है. शाम को एक बार फिर मुख्यमंत्री ने प्रदेश भाजपा कार्यालय जाकर शर्मा और भगत के साथ फिर मंत्रणा की. हालांकि अब संभावना बन गई है कि सबकुछ ठीक रहा तो गुरूवार को नए मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है.

लैब तकनीशियन और सुपरवाइजर के पदों पर वैकेंसी, ये है लास्ट डेट

103 साल की उम्र में दी महामारी को मात, सबसे उम्रदराज़ 'कोरोना सर्वाइवर' बने सूखा सिंह

मेथी की सब्जी समझकर 'गांजा' खा गया परिवार, फिर हुआ ऐसा हाल कि....