'पायलट' की बगावत पर छलका संजय निरुपम का दर्द, कहा- यदि सब चले जाएंगे तो बचेगा कौन ?

Jul 13 2020 03:47 PM
'पायलट' की बगावत पर छलका संजय निरुपम का दर्द, कहा-  यदि सब चले जाएंगे तो बचेगा कौन ?

जयपुर: राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार संकट में नज़र आ रही है. अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच अनबन चरम पर पहुँच चुकी हैं. इस बीच कांग्रेस के अन्य नेताओं की तरफ से निरंतर बयान सामने आ रहे हैं. महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता संजय निरूपम ने कहा है कि पार्टी को सचिन पायलट को रोकना चाहिए, यदि एक-एक कर सभी चले जाएंगे तो कांग्रेस में बचेगा कौन?

संजय निरूपम ने इस संकट पर स्पष्ट कहा है कि राजस्थान के संकट का एक ही हल है, वो ये कि सचिन पायलट को रोका जाए. समझाया जाए और बातचीत से मुद्दे को हल किया जाए, यदि हर कोई चला जाएगा तो बचेगा कौन? आपको बता दें कि इससे पहले कपिल सिब्बल, शशि थरूर, कार्ति चिदंबरम सहित कई दिग्गज नेताओं ने सचिन पायलट को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि केंद्रीय नेतृत्व को इस मुद्दे पर ध्यान देना चाहिए. इससे पहले भी जब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बगावत सुर अपनाए थे, तब भी कांग्रेस में इसी तरह की आवाज उठी थी.

एक ओर सचिन पायलट की तरफ से बगावत की गई तो दूसरी तरफ अशोक गहलोत ने विधायकों को साथ लेकर अपना शक्ति प्रदर्शन किया गया है. अशोक गहलोत ने सोमवार को सौ से ज्यादा विधायकों की मीडिया के समक्ष परेड करवाई और दिखाया कि उनकी सरकार के पास संख्या है. इससे पहले सचिन पायलट द्वारा दावा किया जा रहा था कि उन्हें 30 विधायकों का समर्थन प्राप्त हैं और अशोक गहलोत के पास बहुमत नहीं हैं. किन्तु अब जब अशोक गहलोत ने सौ से अधिक MLA जुटाए हैं, ऐसे में सरकार पर किसी किस्म का संकट नहीं दिखता है.

कर्नाटक में सात दिनों के लॉकडाउन से पूर्व KSRTC ने किया 800 बसों का संचालन

अमेरिका की दिग्गज कंपनी क्वालकॉम ने Jio Platforms में किया बड़ा निवेश, अंबानी ने जताई ख़ुशी

कल से IPO में कर पाएंगे निवेश, जानें पूरी डिटेल्स