कांग्रेस की मांग- चीन विवाद पर संसद में जवाब दें पीएम मोदी

नई दिल्ली: कांग्रेस ने दावा किया है कि उपग्रह से ली गई तस्वीरों से पता चला है कि चीन ने नाकू ला और डोका ला में पूर्वी बॉर्डर्स पर मिसाइल तैनात कर दी हैं, जिससे देश की सुरक्षा पर खतरा है। कांग्रेस की मांग है कि सरकार को इस मुद्दे पर देश को भरोसे में लेना चाहिए। कांग्रेस नेता राजीव शुक्ला और गौरव गोगोई ने संयुक्त डिजिटल प्रेस वार्ता में कहा है कि सरकार को संसद के मानसून सत्र के दौरान मुद्दे पर विचार-विमर्श करना चाहिए और पीएम नरेंद्र मोदी को सभी की चिंताओं पर जवाब देना चाहिए।

सरकारी सूत्रों ने रेखांकित किया कि सशस्त्र बल सीमा पर गतिविधियों पर पैनी नज़र रख रहे हैं। कांग्रेस के दोनों नेताओं ने सवाल किया कि मुद्दे पर सरकार मौन क्यों है। शुक्ला ने प्रेस वालों से कहा कि, 'हम भारत सरकार से देश को विश्वास में लेने का अनुरोध करते हैं। सरकार को कोरोना महामारी के साथ इस मसले पर भी संसद में चर्चा करनी चाहिए, और साफ़ करना चाहिए कि देश की सुरक्षा को क्या खतरा है।' लोकसभा में कांग्रेस के उप नेता गोगोई ने कहा कि यह गंभीर चिंता का विषय है जो राष्ट्रीय सुरक्षा को प्रभावित करता है और जिसके भयंकर नतीजे हो सकते हैं।

उन्होंने कहा है कि, 'यह काफी गंभीर मुद्दा है और हम मोदी सरकार को विस्तारवादी चीन के सैन्य शक्ति बढ़ाने के बारे में लगातार याद दिलाते रहे हैं, किन्तु भारत सरकार और पीएम चुप हैं।'' दोनों नेताओं ने कहा कि स्थिति से निपटने के लिए सरकार को अपनी कार्ययोजना के सम्बन्ध में देश को जानकारी देनी चाहिए।

अब अडानी ग्रुप के हाथों में होगी मुंबई एयरपोर्ट की कमान, खरीदेगा 74 फीसद हिस्सेदारी

पेट्रोल और डीजल के प्राइस में नहीं हुआ कोई बदलाव, जानें क्या है आज दाम

शमशाबाद अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे को मिले दो राष्ट्रीय पुरस्कार, जानिए क्यों?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -