नागरिक समूह का बड़ा एलान, जारी हुआ स्वच्छ वायु जन घोषणापत्र

नई दिल्ली: दिल्ली में नागरिक समूहों ने आगामी विधानसभा चुनाव से पहले स्वच्छ वायु जन घोषणापत्र जारी किया है. यह घोषणापत्र बीते शनिवार को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में जारी किया गया. जंहा आप, बीजेपी और कांग्रेस समेत प्रमुख राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों ने रेसिडेंट वेलफेयर एसोसिएशनों के अध्यक्षों के साथ मिल कर इसे शनिवार को जारी किया. राजनीतिक दलों ने इस पर कार्य करने की सहमति जारी की है. 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस बात का पता चला है कि गत वर्षों में राजधानी में वायु प्रदूषण का बेहद भीषण रूप व उसका असर देखने को मिला है. जंहा इससे करीब 80 लोगों की जान जा चुकी है. वहीं आगामी चुनावों में वायु प्रदूषण व स्वच्छ वायु को नागरिक समूह एक मुद्दे के तौर पर पेश करना चाहते हैं. जन घोषणापत्र में वायु प्रदूषण की समस्या से निजात के लिए बेहतर सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था, ठोस कूड़ा एवं अपशिष्ट प्रबंधन, अक्षय ऊर्जा का अधिकाधिक इस्तेमाल और राज्यों के बीच सहयोग को बढ़ाना जैसे समाधानों के साथ यह कुछ लक्ष्यों को भी निर्धारित करता है जैसे वर्ष 2025 तक 15 हजार बसों को सड़कों पर चलाना, कूडे़-कचरे का घरों से 100 प्रतिशत उठाव और सबसे महत्वपूर्ण राष्ट्रीय मानकों को पूरा करने के लिए वर्ष 2025 तक वायु प्रदूषण में करीब 65 प्रतिशत की कमी लाना. 

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि इस मौके पर ऊर्जा के अध्यक्ष श्री अतुल गोयल ने कहा कि दिल्ली ऐसे मजबूत नेतृत्व की आशा करती है जो बुनियादी सुधार लाए और शहर की वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए नीतियों में बदलाव करे. जंहा जनता अपने नेताओं से उम्मीद करती है कि वे वायु प्रदूषण के संकट से समाधान का रास्ता दिखाएंगे. वहीं इस मौके पर उपस्थित भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता श्री जयराम विप्लव, कांग्रेस की प्रवक्ता जरिता लैतफलांग और आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता श्री घनेंद्र भारद्वाज ने अपनी पार्टी के घोषणापत्र के लिए एक मार्गदर्शक के रूप में जन घोषणापत्र का समर्थन किया.

ऑस्ट्रेलिया में आग लगने के बाद अनाथ हुए जानवर, कोआला को मिला दुनियाभर से 'बुना हुआ प्यार'

अमेरिका ने ईरान पर साधा निशाना, कहा- Missile से क्रैश हुआ यूक्रेन का विमान....

'सनातन काल से ही भारत हिंदू राष्ट्र था, है और हिन्दू राष्ट्र ही रहेगा'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -