सफल हुआ एक्सपेरिमेंट, जल्द आएगा कोरोना वायरस का एंटीडोट

सफल हुआ एक्सपेरिमेंट, जल्द आएगा कोरोना वायरस का एंटीडोट

बीजिंग: चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच एक अच्छी खबर सुनने को मिली है. जंहा चीन के शोधकर्ताओं ने बताया कि इस वायरस से प्रभावित मरीजों के लिए एक विशेष प्लाज्मा तैयार कर लिया गया है. वहीं शोधकर्ताओं ने बताया कि यह प्लाज्मा उन लोगों का है जो कोरोना वायरस से ग्रस्त थे और अब  पूर्ण रूप से ठीक हो चुके हैं.

ऐसे लोगों के शरीर में वायरस से निपटने के लिए पर्याप्त रूप में बन चुके एंटीबॉडी: वहीं यह भी कहा जा रहा है कि चाइना नेशनल बायोटेक ग्रुप (सीएनबीजी) ने बताया कि स्वस्थ हो चुके मरीजों के शरीर में बहुत से एंटीबॉडी शामिल हो गए हैं जो कोरोना वायरस से निपटने में बेहद कारगर साबित होने का अनुमान हैं.

टीका व कारगर दवा के अभाव में विशेष प्लाज्मा एक कारगर उपाय है- वूहान अस्पताल: मिली जानकारी के अनुसार हाल ही में वूहान के चिनइनथान अस्पताल के प्रधान च्यांग तिंगयू ने कहा कि अस्पताल हाल ही में उन लोगों के प्लाज्मा का अध्ययन किया जा रहा. वहीं जिसमें आरंभिक परिणाम मिल चुका है. वहीं अब टीका व कारगर दवा के अभाव होने पर विशेष प्लाज्मा का प्रयोग करके कोरोना वायरस के रोगियों का इलाज एक कारगर उपाय ही है.

जुटाए गए प्लाज्मा से कोरोना वायरस के मरीजों का होगा इलाज: हम आपको बता दें कि सीएनबीजी ने इस बात का एलान किया है कि इस बीमारी से निजात पाने वाले मरीजों से प्लाज्मा इकट्ठा किया गया है. वहींयह भी कहा जा रहा है कि प्लाज्मा इकट्ठा करने के लिए बहुत सावधानियां बरती गईं. इस दौरान रक्त का परीक्षण, वायरस निष्क्रियता की जांच और एंटीवायरस की सक्रियता आदि की जांच की गई. जुटाए गए प्लाज्मा से कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों का इलाज किया जाएगा. साथ ही सीएनबीजी और वूहान रक्त केंद्र ने संयुक्त रूप से स्वस्थ हो गये एनसीपी रोगियों से रक्त दान देने का आह्वान भी किया है.

राष्ट्रपति अशरफ गनी ने पाक को बनाया निशाना, कहा- 'आतंकवाद के विरुद्ध नहीं उठा...'

पेरिस में FATF की संपन्न हुई बैठक, पाक पर सकती दिखाने की संभावना

कोरोना वायरस : चीन की मदद करने के लिए भारत करने वाला है ये काम