बच्चे ने बताया, माँ और भाई का हत्यारा है पिता

नई दिल्ली. दिल्ली के जहांगीरपुरी में एक आदमी ने अपनी पत्नी और बेटे की हत्या अपने ही दो बेटों के सामने कर दी. दरअसल शोभा और ओम प्रकाश की शादी 13 साल पहले हुई थी. इनके तीन बच्चे हैं करण(2), सुशांत (6) और राहुल (8). ओमप्रकाश शादी के पांच साल तक जी ब्लाक स्थित पिता के घर में रहने के बाद अलग रहने लगा था, तब शोभा अपने मायके हैदरपुर में रहती थी.

दस रोज पूर्व ही ससुर ने बहू-पोते को अपने पास बुला लिया था. शोभा अपने मायके रहकर दूसरे घरों में काम करने लगी थी, इसलिए ओमप्रकाश को शक था कि करण उसका बेटा नहीं है. इसे लेकर दोनों अक्सर झगड़ते थे. मंगलवार सुबह आठ बजे देवर बबलू ऊपर कमरे में पहुंचा, वहाँ शोभा व करण के खून से लथपथ शव पड़े हुए थे. मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि दोनों का गला रेता गया है व शोभा के सिर पर हथौड़े से वार किए गए हैं. अस्पताल ले जाने पर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया.

घटना के समय बड़ा बेटा राहुल जाग रहा था. उसने बताया कि जब शोभा सो रही थी तब ओमप्रकाश ने उसका मुंह दबाकर, चाकू से गला काट दिया. इसके बाद सिर पर हथौड़े से मारा. फिर करण की भी गला रेतकर हत्या कर दी. इसके बाद वह पत्नी शव के साथ बैठा, फिर कुछ देर के लिए सो भी गया. बाद में राहुल भी डर कर सो गया था. 

जींद गैंगरेप- जिस पर शक था उसी की लाश मिली

बीजेडी नेता ने पार्टी कार्यालय में किया महिला से दुष्कर्म

80 हज़ार के बदले नाबालिग से बलात्कार माफ़

Most Popular

- Sponsored Advert -