नक्सली संगठन में बहन और भाई पुलिस के साथ, एनकाउंटर में हुआ दोनों का आमना-सामना और...

Aug 12 2019 04:34 PM
नक्सली संगठन में बहन और भाई पुलिस के साथ, एनकाउंटर में हुआ दोनों का आमना-सामना और...

रायपुर: यह कहानी कभी नक्सली कमांडर रहे वेट्टी रामा की है, जो आजकल पुलिस के लिए काम रहा रहा है. हालांकि, उसकी बड़ी बहन वेट्टी कन्नी नक्सली संगठन के लिए काम कर रही है. बीते दिनों एक एनकाउंटर में दोनो आमने-सामने आ गए थे. वेट्टी रामा पुलिस के साथ और उसकी बहन नक्सलियों के साथ थी. दोनो का आमना-सामना हुआ किन्तु इस बीच दोनो तरफ से गोलीबारी होनी शुरू हो गई. अंधाधुध गोलीबारी के बीच नक्सली वहां से भाग निकले. 

ऐसा नहीं है कि वेट्टी रामा ने बहन को मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास नहीं किया. बार-बार पत्र लिखे किन्तु उसकी बहन ने दुबारा पत्र न भेजने की बात कही और नक्सल संगठन के लिए काम करने की बात कही. वेट्टी रामा भी नक्सली संगठन में रह चुका है. 13 अक्टूबर 2018 को हथियार के साथ रामा ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा से जुड़कर काम करने की इच्छा जाहिर की थी. उसके बाद से वो पुलिस के लिए काम कर रहा है. 

रामा गत 23 वर्षों से नक्सली संगठन में सक्रिय था और कोंटा इलाके में नक्सली संगठन को सशक्त करने और वारदातों को अंजाम देने का काम रह रहा था. रामा के उपर लगभग 24 नामजद अपराध विभिन्न थानों मे दर्ज है. शासन द्वारा रामा पर आठ लाख का इनाम घोषित किया था,  लेकिन मुख्यधारा से जुड़ने के लिए रामा ने 13 अक्टूबर 2018 को पुलिस के सामने हथियार डाल दिए थे. अब तक सबसे बड़ा नक्सली लीडर था जिसने आत्मसमर्पण  किया था. उसके बाद रामा पुलिस के लिए काम करना आरंभ कर दिया.

रिलायंस AGM की बैठक में मुकेश अम्बानी ने किए बड़े ऐलान, ये है जम्मू कश्मीर में निवेश का प्लान

ट्विंकल की इस फिल्म को मिला नेशनल अवॉर्ड, कहा-लोगों ने बनाने के लिए किया था मना

कश्मीर के कोने-कोने में लहराएगा तिरंगा, दिल्ली ने भेजें 50 हजार झंडे