26 अप्रैल को शुभ मुहूर्त में ही खुलेंगे गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट

चार धामों में से दो धाम गंगोत्री और यमुनोत्री मंदिर के कपाट अक्षय तृतीया की नियत तिथि पर 26 अप्रैल को ही खुलेंगे। दोनों धामों के तीर्थ पुरोहितों का कहना है कि परंपराओं का निर्वहन लॉकडाउन के नियमों के तहत ही किया जाएगा।गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष पं. सुरेश सेमवाल ने कहा कि गंगोत्री धाम के कपाट अक्षय तृतीया के पावन पर्व पर ही खोले जाते हैं। चार धाम यात्रा का व्यावसायिक पक्ष अलग है, लेकिन धार्मिक परंपरा का निर्वहन आवश्यक है।

इसके साथ ही आपदाओं की वजह से ऐसा कई बार हो चुका है, जब धामों के कपाट खुले, लेकिन चार धाम यात्रा नहीं चली। यमुनोत्री मंदिर समिति के उपाध्यक्ष जगमोहन उनियाल का भी कहना है कि यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने की तिथि अक्षय तृतीया वाले दिन ही नियत है।चार धाम यात्रा तो हालात सामान्य होने पर ही चलेगी, लेकिन कपाट खोले जाने की प्राचीन परंपरा का निर्वहन किया जाएगा। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें  की उनियाल ने बताया कि लॉकडाउन और सामाजिक दूरी के नियमों का अनुपालन करते हुए खरसाली से यमुनोत्री धाम तक डोली यात्रा और कपाट खोले जाने की रूपरेखा तैयार कर इस संबंध में प्रशासन से अनुमति मांगी गई हैलॉकडाउन अवधि में धार्मिक समेत सभी तरह के आयोजन प्रतिबंधित हैं। धामों के कपाट खोलने की परंपरा के दौरान भी लॉकडाउन और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कराया जाएगा। कपाट खोले जाने के लिए सीमित संख्या में तीर्थ पुरोहितों के अलावा किसी अन्य को धाम तक जाने की अनुमति नहीं होगी।

कोरोना से साउथ कोरिया के बिगड़े हाल, मरने वालों की संख्या 50 के पार

मौत के कुएं में धकेल रहा कोरोना, हिलाकर रख देगा यह आंकड़ा

जानिये Zoom एप अकाउंट को डिलीट करने का आसान तरीका

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -