इन क्षेत्रों में बना सकते है अपना बेहतर करियर, आने वाले समय में होगा बहुत फायदा

कोरोना महामारी के चलते इस वर्ष बोर्ड की परीक्षाएं नहीं हो सकीं। विद्यार्थियों को अपने परिणाम की प्रतीक्षा है। साथ ही साथ उन्हें इस के चलते अपनी जिंदगी का महत्वपूर्ण निर्णय भी लेना है कि आगे आपना करियर किस तरीके से बनाया जाए। ऐसे में एक दुनिया स्किल्ड बेस्ड एजुकेशन की भी है। जहां आने वाले वक़्त में काफी स्कोप की संभावनाएं व्यक्त की जा रही हैं। या फिर ये भी बोल सकते हैं कि आप चाहे, जो भी पढ़ें, साथ में कुछ स्किल्स का होना बहुत आवश्यक है। 

डेटा साइंस में बेहतर स्कोप:-
लिंक्डइन के अनुसार, 2020 में उद्योग जगत में एनालिटिकल, डेटा-उन्मुख कौशल जैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मांग सबसे अधिक रही है। डेटा साइन्स रफ़्तार से उभरता क्षेत्र है तथा इसका इस्तेमाल विभिन्न सेक्टरों जैसे चिकित्सा, शिक्षा, कृषि कारोबार, फार्मास्युटिकल, मीडिया- एंटरटेनमेन्ट, बैंकिंग- फाइनैंशियल संस्थानों में किया जा रहा है।  परिणामस्वरूप डेटा साइन्टिस्ट की मांग तेज़ी से बढ़ रही है। विशेष बात यह है कि इसमें सबसे अधिक वेतन भी प्राप्त होता है। फ्रैशर के लिए डेटा साइन्स में राष्ट्रीय औसत वेतन सालाना 10,00,000 रुपये है।

रिपोर्ट के अनुसार, 2022 तक 42 फीसदी नौकरियों में बड़े परिवर्तन आ जाएंगे, इन नौकरियों के लिए एनालिटिक्स, डिज़ाइन थिंकिंग, कॉम्प्लेक्स प्रोब्लम-सॉल्विंग में स्किल्स की आवश्यकता होगी।  इसके अतिरिक्त बिज़नेस कम्युनिकेशन, पर्सनल नेटवर्किंग, क्रिएटिव राइटिंग, ईमेल कम्युनिकेशन, निर्णय निर्धारण, स्पष्ट कम्युनिकेशन जैसे स्किल्स का भी आना बहुत आवश्यक है। निरपेक्ष बताते हैं कि अब एम्पलॉयर्स केवल डिग्री नहीं देखते। वे अपने लिए ऐसा कैंडिडेट चुनना चाहते हैं, जिसमें उद्योग जगत के लिए आवश्यक कौशल हों। कर्मचारी भी अपनी कंपनी के लिए कुशल कार्यबल चुनना चाहते हैं। ऐसे में सही कौशल के साथ विद्यार्थी अपने लिए सही करियर बना सकते हैं। 

क्या आप भी बनना चाहते है 'क्रिकेटर'? तो जान लीजिये ये जरुरी बातें

क्या आपका भी है 'अंपायर' बनने का सपना, तो जान लीजिए ये जरुरी बातें

निर्देशक ने मारा था राज कपूर को थप्पड़, सफ़ेद साडी से बहुत प्यार करते थे अभिनेता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -