पिता स्वामी प्रसाद सपा में गए तो बेटी भाजपा में क्यों ? अब BJP सांसद संघमित्रा मौर्य ने दिया जवाब

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार में 5 साल मंत्री रहने के बाद बगावत कर इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य ने कुछ पूर्व मंत्रियों के संग शुक्रवार को समाजवादी पार्टी (सपा) की सदस्यता ले ली है। इस अवसर पर मौर्य ने भाजपा के खिलाफ जमकर जुबानी तीर भी चलाए। वहीं, स्वामी प्रसाद के सपा में शामिल होने और भाजपा के खिलाफ बयानबाजी करने के बाद उनकी बेटी और भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य पर भी सवाल उठ रहे हैं। 

 

इन सब के बीच बदायूं लोकसभा सीट से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य वह अपने पिता के अलग रास्ते पर चले जाने के बाद भी भाजपा में ही बने रहने का फैसला किया है। शुक्रवार को ही स्वामी प्रसाद की बेटी संघमित्रा मौर्य ने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखा है, जिसमें उन्होंने पिता स्वामी प्रसाद मौर्य को याद करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी को भी अपना पिता कहा है। फेसबुक पोस्ट में पिता स्वामी प्रसाद मौर्य के प्रति भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य ने अपनी भावना व्यक्त की है।

उन्होंने पिता के साथ अपनी तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा है कि, 'मैं कुछ मांगू और पूरा न हो, ऐसे तो हालात नहीं, मैं पुकारुं और पापा न सुनें, इतने भी हम दूर नहीं।' संघमित्रा ने आगे लिखा कि प्रधानमंत्री जी ने मेरे पिताजी को कहा था, 'ये बेटी अब हमारी बेटी है, ये बेटी हमने ले ली।' उन्होंने लिखा कि, 'आज उत्तर प्रदेश में जो स्थिति है वो बड़बोलापन ही है, जहाँ एक तरफ आदरणीय मोदी जी भाजपा का बड़ा परिवार करने की बात करते है और काम करते है वही निचले स्तर के लोग छोटी सोच का परिचय दे कर किसी को हजम नही करना चाहते। जय भाजपा तय भाजपा। ' 

'आतंकियों का समर्थन' कर रहा था Twitter, जैसे ही कोर्ट पहुंचा मामला अक्ल आ गई ठिकाने

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

विधानसभा चुनावों में बड़ा 'गेम' कर सकता है Twitter, पहले से विवादों में है ये 'साइट'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -