गुरुद्वारों पर विवादित टिप्पणी करने वाले नेता संदीप दायमा को भाजपा ने पार्टी से निकाला

गुरुद्वारों पर विवादित टिप्पणी करने वाले नेता संदीप दायमा को भाजपा ने पार्टी से निकाला
Share:

जयपुर: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुरुद्वारों पर विवादास्पद टिप्पणी को लेकर अपनी राजस्थान इकाई के नेता संदीप दायमा को निष्कासित कर दिया है। दायमा को निष्कासित करने के फैसले की घोषणा राजस्थान भाजपा की अनुशासन समिति के अध्यक्ष ओंकार सिंह लाखावत ने की। पार्टी की ओर से रविवार को जारी अधिसूचना में कहा गया है कि, ''पार्टी की विचारधारा के खिलाफ बयान देने के कारण प्रदेश अध्यक्ष के निर्देश पर संदीप दायमा को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है।''

वरिष्ठ भाजपा नेता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह सहित अन्य लोगों ने उनके निष्कासन का आह्वान किया था। राजस्थान के अलवर में एक चुनावी रैली में संदीप दायमा ने अमर्यादित टिप्पणी की, जिससे सिख समुदाय भड़क गया। अलवर में भाजपा के बालकनाथ के समर्थन में एक चुनावी रैली में, भाजपा नेता संदीप दायमा ने कथित तौर पर कहा कि, 'देखें यहां कितनी मस्जिदें, गुरुद्वारे बनाए गए हैं!  यह भविष्य में हमारे लिए नासूर बन जाएगा। इसलिए हमारा कर्तव्य है कि इस नासूर को उखाड़कर फेंक दें और बाबा बालक नाथ जी को भारी बहुमत से जिताएं।'

भाजपा नेता की टिप्पणी से सिख समुदाय में गुस्सा फैल गया, जिसके कारण विरोध प्रदर्शन हुआ और दायमा के पुतले जलाए गए। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद विपक्षी दलों ने इस टिप्पणी पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। कांग्रेस सांसद जसबीर सिंह गिल ने भी भाजपा नेता की कठोर टिप्पणियों को लेकर उन पर निशाना साधा। जसबीर सिंह ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि, 'गुरुद्वारों ने हमेशा मानवता की सेवा की है और कभी किसी के धर्म या जाति के बारे में नहीं पूछा। चाहे कोरोना हो या कोई अन्य प्राकृतिक आपदा, गुरुद्वारों, दान पेटियों और लंगर के दरवाजे हमेशा सभी के लिए खुले रहे हैं। संदीप जैसे लोगों की निम्न-स्तरीय सोच और मनोविज्ञान उन्हें महंगा पड़ेगा, - नानक नाम चढ़दी कला, तेरे भाणे सरबत दा भला।'

अपनी टिप्पणी पर विपक्ष की भारी आलोचना का सामना करते हुए, दायमा ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक वीडियो संदेश में माफी जारी की। उन्होंने अपने वीडियो सन्देश में कहा कि, 'मस्जिद-मदरसा के स्थान पर, मैंने गलती से गुरुद्वारा साहब के बारे में कुछ गलत शब्दों का प्रयोग कर दिया। मैं पूरे सिख समुदाय से हाथ जोड़कर माफी मांगता हूं, जिसने हमेशा हिंदू धर्म और सनातन धर्म की रक्षा की है। मुझे नहीं पता कि मुझसे गलती कैसे हो गई। मैं किसी गुरुद्वारे में जाकर अपनी इस गलती का प्रायश्चित करूंगा। मैं पूरे सिख समुदाय से हाथ जोड़कर माफी मांगता हूं। सत श्री अकाल!'

महादेव बुक समेत 22 सट्टेबाज़ी एप्स पर सरकार ने लगाया बैन, D कंपनी से जुड़ रहे थे तार

हिमाचल की कांग्रेस सरकार ने 10 महीने में लिया 11000 करोड़ का कर्ज, RTI में सामने आई जानकारी

महादेव बेटिंग ऐप के 'मालिक' के खुलासे पर आई CM बघेल की प्रतिक्रिया, बोले- 'एक अनजान व्यक्ति के बयान को...'

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -