जन्मदिन विशेष : आशा भोसलेजी को भी करना पड़ा था मुश्किलों का सामना

जन्मदिन विशेष : आशा भोसलेजी को भी करना पड़ा था मुश्किलों का सामना

संगीत जगत की सुर-साम्राज्ञी आशा भोंसले आज पूरे 82 साल की हो चुकी है। 82 साल की होने के बाद भी उनकी आवाज मे आज भी वही जादू है। आज भी उनकी आवाज सुनकर सब मंत्रमुग्ध हो जाते है। आशा भोंसलेजी  का जन्म 8 सितंबर, 1933 को हुआ था। आशाजी के पिताजी का नाम पंडित दीनानाथ मंगेशकर है। आशाजी को पहले बहुत समय तक मुश्किल का सामना करना पड़ा था। आशा ताई  सुरकोकिला लता मंगेशकरजी  की बहन है। 

आशा ताई को संगीत की दुनिया मे सात बार सर्वश्रेष्ठ पार्श्वगायिका का फिल्मफेयर पुरस्कार और दो बार राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिल चुका है। आशाजी को 2000 मे दादासाहेब फाल्के पुरस्कार भी दिया गया था। आशाजी ने सबसे ज्यादा गीत गाये है। आशाजी का नाम गिनिस बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स मे भी लिखा गया है। आशा ताई ने अपने गानो की शुरुवात 'चुनरिया' फिल्म के गीत 'सावन आया' से की थी। आशा ताई ने बहुत सी फिल्मों मे गाने गाये है। फिल्मों मे 'बी' और 'सी' ग्रेड की फिल्मे भी शामिल है। आशा ताई का सबसे अच्छा गाना जिस गाने ने उन्हे लोकप्रिय बनाया वो है  'तीसरी मंजिल'  फिल्म का गाना  'आजा आजा मैं हूं प्‍यार तेरा'।

1981 मे आई फिल्म  'उमराव जान' मे आशा ताई ने इतने अच्छे गाने गाये थे कि सारे फैंस हैरान हो गाये थे। 'उमराव जान' फिल्म के 'दिल चीज क्‍या है' और 'इन आंखों की मस्‍ती में'  गानो ने लोगो का दिल जीत लिया था। आशा ताई ने इन गानो के बाद और भी कई गाने गाये जो एक के बाद एक हिट होते चले गए।

आशा ताई जितना अच्छा गाना गाती है उतना ही अच्छा खाना भी बनाती है। आशा ताई अपनी बहन लता मंगेशकरजी के बहुत करीब थी। आशा ताई ने संगीत जगत के महान संगीतकार आर.डी बर्मन से दूसरी शादी की थी। आर.डी बर्मन की भी यह दूसरी शादी थी। आर.डी बर्मन 1994 मे आशा ताई को छोड़कर चले गए थे। आर.डी बर्मन का निधन हो गया था। अपने पति के निधन के बाद ताई बहुत टूट गई थी। ताई ने गाने गाना भी बंद कर दिया था। बहुत समय से आशा ताई के गाने नहीं आये है। कुछ समय पहले आशा ताई को एक शो मे जज की भूमिका निभाते देखा गया था।