दुनियाभर के वैज्ञानिकों के लिए बड़ी चेतवानी, हैकरों ने रची वैक्सीन चुराने की साजिश

बीजिंग: जंहा आज पूरी दुनिया में कोरोना वायरस मानवीय जीवन का काल बना बैठा है, तो वहीं हर दिन कहीं न कही से दिल को दहला देने वाली जुर्म की खबर सामने आ रही है. वहीं दुनियाभर के बड़े से बड़े वैज्ञानिक इस वायरस का तोड़ निकालने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे है वहीं उनकी मेहनत पर संकट मंडराने लगा है. चीन-अमेरिका में सैन्य तकनीकों व सुरक्षा दस्तावेजों की चोरी के आरोप-प्रत्यारोप लगते रहे हैं.

मिली जानकारी के अनुसार इस बात का पता चला है कि अब अमेरिका ने चीन पर कोविड-19 पर हो रही रिसर्च को चुराने का आरोप लगाया है. अमेरिकी खुफिया और गृह (होमलैंड) मंत्रालय बाकायदा इसके लिए चेतावनी की तैयारी कर रहा है.

उसके मुताबिक चीन के सबसे कुशल हैकर्स इस शोध को चुराने के लिए अमेरिका पर साइबर हमले बढ़ा रहे हैं. एफबीआई व होमलैंड सुरक्षा मंत्रालयों ने इस बारे में बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर ली है. इसके तहत प्रीमियर चिकित्सा अनुसंधान केंद्रों से लेकर विश्वविद्यालयों, शोध विभागों और अस्पतालों तक में घातक वायरस का इलाज खोजने में शामिल सभी एजेंसियों को सतर्क किया जाएगा.  

अमेरिका में इस सप्ताह से शुरू हो सकता है परीक्षण

दुनियाभर में जारी है कोरोना वैक्सीन की खोज, 40 देशों ने दिए 800 करोड़

अमेरिका में लोगों का काल बना कोरोना, तीव्रता से बढ़ रहा मौत का आंकड़ा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -