पुलवामा हमले की दूसरी बरसी पर आतंकवादी रच रहे थे बड़ा षड्यंत्र, इस तरह हुआ नाकाम

जम्मू: आज ही के दिन वर्ष 2019 को आतंकियों द्वारा पुलवामा पर हमला किया गया था, वही इस बीच सुरक्षाबलों ने पुलवामा हमले की द्वितीय बरसी पर एक बड़े आतंकी षड्यंत्र को विफल किया है। सूत्रों के अनुसार, जम्मू में सात किलो RDX जब्त किया गया है। जम्मू पुलिस ने एक व्यक्ति को भी हिरासत में लिया है। वह कश्मीर घाटी का रहने वाला है। उसी के निशानदेही पर इतना बड़ा जखीरा जब्त किया गया है। हालांकि अभी इसकी ऑफिशियल पुष्टि नहीं हुई है। शाम 4:30 बजे जम्मू पुलिस प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकती है।

2 वर्ष पूर्व आज ही के दिन (14 फरवरी 2019) कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के एक फिदायीन आतंकी दस्ते ने सीआरपीएफ के काफिले पर वॉर किया था। इस घटना में सीआरपीएफ के 40 सैनिक शहीद हो गए थे। पुलवामा हमला पाकिस्तान की एक सोचे समझे षड्यंत्र का परिणाम था। इस षडंयत्र के तहत जैश ए मोहम्मद में अपने आतंकियों को ट्रेनिंग देने के लिए अलकायदा, तालिबान तथा हक्कानी के अफगानिस्तान में बने ट्रेनिंग शिविर में हथियार एवं गोला बारूद चलाने का प्रशिक्षण दिया था।

14 फरवरी 2019 को श्रीनगर में ड्यूटी पर वापस लौट रहे सीआरपीएफ के 76वीं बटालियन के 2500 से अधिक सैनिकों के लिए जम्मू से 2।33 बजे तड़के बस लेना यादगार एक्सपीरियंस था, जो कि कुछ ही घंटों पश्चात् सबसे दुखद घटना में परिवर्तित हो गया। काफिला जैसे ही श्रीनगर से 27 किमी पहले लेथपोरा पहुंचा, एक पीछा कर रही विस्फोटक से भरी कार ने काफिले के पांचवी बस को बांयी ओर से टक्कर मार दी। विस्फोट में दूसरे बस को भी हानि पहुंची। क्षेत्र में फायरिंग की आवाज सुनी गई, किन्तु कोई नहीं जानता यह फायरिंग किसने की।

भारत ने कोरोना के खिलाफ टीकाकरण का दूसरा अभियान किया शुरू

देहरादून में तेजी से घट रहा कोरोना का आंकड़ा, 22 संक्रमित हुए रिकवर

यदि घर के समने मिला कचरा तो देना होगा 5000 का जुर्माना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -