मोदी सरकार के खिलाफ लोकपाल को लेकर शुरु हुआ अन्ना हजारे का अनशन

नई दिल्ली : देश के प्रसिद्ध समाज सेवक अन्ना हजारे ने आज से अपनी लोकपाल की मांग को लेकर अनशन की शुरुआत कर दी है. बता दें कि अन्ना ने यह अनशन महाराष्ट्र स्थित अपने गांव रालेगण सिद्धि में शुरू किया है. वे इस संबंध में पहले ही जानकारी दे चुके थे.

अन्ना हजारे ने मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा था कि अगर सरकार चाहती तो क्या लोकपाल कानून लाने में पांच साल लगते. इससे पूर्व उन्होंने चिट्ठी लिखकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को कहा था कि वे अहमदनगर जिले के अपने गांव रालेगण सिद्धि में अनशन करने के लिए तैयार है. 

चिट्ठी में अन्ना ने लिखा था कि लोकपाल एक्ट को पास हुए 5 साल हो गए है, लेकिन मोदी सरकार ने अब तक कोई लोकपाल नियुक्त नहीं किया है. बता दें कि इसी को लेकर अन्ना हजारे अनशन पर बैठे हैं. आपको इस बात से भी अवगत करा दें कि अन्ना हजारे ने अपने पत्र में यह भी लिखा है कि उनका ये अनशन किसी व्यक्ति, पक्ष, पार्टी के विरुद्ध में नहीं है बल्कि लोकपाल को लेकर है. अन्ना हजारे ने इस दौरान बताया कि वो समाज और देश की भलाई के लिए बार-बार आंदोलन करते आ रहे हैं और आगे भी करते रहेंगे. 

दुनिया के सबसे भ्रष्ट देशों की लिस्ट जारी, चीन-पाकिस्तान पर हिंदुस्तान भारी

सड़क हादसे में इस मशहूर सिंगर ने गंवाई जान

योगी की संगम डुबकी पर अब शशि थरूर ने कही ऐसी बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -