मुकेश अंबानी धमकी मामला: NIA ने कब्जे में लिए IM प्रमुख से जब्त किए गए फोन

मुंबई: उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर के बाहर विस्फोटक मिलने के मामले में अब भी जांच जारी है। यह जांच एनआईए (NIA) की टीम कर रही है और अब इसी टीम ने दो फोन अपने कब्जे में लिए हैं। मिली जानकारी के तहत ये फोन एनआईए ने दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद इंडियन मुजाहिदीन के कथित प्रमुख तहसीन अख्तर के पास से बरामद किए गए थे। केवल यही नहीं बल्कि अख्तर ने इस बात को स्वीकार किया है कि ये दोनों फोन उसी के हैं। वहीँ दूसरी तरफ टेलीग्राम पर भेजे गए दोनों मैसेज से उसने इनकार किया है। आपको बता दें कि ये दोनों मैसेज भेजकर जैश-उल-हिंद नाम के आतंकी संगठन ने अंबानी के घर के बाहर एसयूवी में विस्फोटक रखने की जिम्मेदारी ली थी।

आप सभी को हम यह भी बता दें कि एनआईए ने बीते हफ्ते लोधी कॉलोनी में दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के दफ्तर से ये फोन अपने कब्जे में लिए हैं। इस मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि, 'एजेंसी मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के खिलाफ सबूतों की जांच कर रही है। इसके बाद उसकी गिरफ्तारी के लिए अनुमति मांगी जाएगी।' ऐसा भी कहा जा रहा है कि अख्तर ने साल 2013 में इंडियन मुजाहिदीन के सह संस्थापक यासीन भटकल की गिरफ्तारी के बाद आईएम के प्रमुख के रूप में पदभार संभाला था। जी दरअसल अख्तर साल 2011 में हुई मुंबई बम धमाकों में भी एक आरोपी है।

वहीँ तिहाड़ जेल के अधिकारियों और दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल के एक तलाशी अभियान के दौरान उसके बैरक से ये फोन बरामद किए गए थे। एक मशहूर वेबसाइट की रिपोर्ट को माने तो, 'ये फोन उसके साथ-साथ छह अन्य कैदी भी इस्तेमाल कर रहे थे। इनमें अल कायदा का एक सदस्य भी शामिल था।' अब पुलिस ने दोनों फोन जब्त कर फोरेंसिक जांच के लिए भेज दिए।

एक समय पैसे-पैसे को मोहताज थे मनीष पॉल, इस खास शख्स के कारण मिली कामयाबी

जल्द रिलीज होगा रैपर बादशाह और सहदेव का गाना 'बचपन का प्यार भूल नहीं जाना रे'

देशभर में जारी हुए पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए आज का भाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -