'हिंसा की घटनाओं के आरोपी RSS और बीजेपी से हैं, इटली से नहीं': CM अशोक गहलोत

जयपुर: देश के विभिन्न राज्यों में हुई सांप्रदायिक हिंसा की घटनाओं पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) का बयान आया है। जी दरअसल हाल ही में अशोक गहलोत ने आरोप लगाया कि हिंसा के आरोपी RSS-BJP से आए, इटली से नहीं। इसी के साथ राजस्थान के सीएम ने यह भी आरोप लगाया है कि भारतीय जनता पार्टी हिंसक घटनाओं से राजनीतिक फायदा लेने की कोशिश में हैं। जी दरअसल एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में अशोक गहलोत ने कहा, 'विभिन्न राज्यों में हुई हिंसा की घटनाओं के पीछे जो आरोपी हैं वे RSS और बीजेपी से हैं, इटली से नहीं।'

इसी के साथ आगे उन्होंने कहा कि, 'दंगों से फायदा किसका होता है? जिस पार्टी का दंगों से फायदा होता है, समझ लीजिए वही दंगा करा रही है। गहलोत ने आगे कहा कि दंगों के जरिये कांग्रेस को बदनाम करने का काम किया जा रहा है।' इसी के साथ राजस्थान के सीएम ने यह भी कहा कि बीजेपी धुव्रीकरण करके हिंदू वोट ले रही है लेकिन महंगाई, बेरोजगारी की वजह से ऐसा ज्यादा लंबे वक्त तक नहीं चलेगा। आप सभी को बता दें कि कांग्रेस शासित राजस्थान राज्य के करौली, रामगढ़, जोधपुर आदि से हिंसक घटनाएं सामने आई थीं।

ऐसे में इसपर CM अशोक गहलोत ने कहा कि, 'करौली में मुख्य आरोपी भाजपा का, रामगढ़ में मंदिर तोड़े गए वहां भाजपा का बोर्ड 35 में से 34 पार्षद भाजपा के हैं, और बदनाम कांग्रेस को किया गया, जोधपुर में कोई घटना ही नहीं और घटना बना दी गई।' इसके अलावा गहलोत ने यह भी कहा कि, 'देश के हालात बिगड़ते जा रहे हैं, तनाव का माहौल है, हिंसा को माहौल है, हर धार्मिक जुलूस के वक़्त दंगे भड़क रहे हैं और जहां-जहां चुनाव होते हैं, वहां ज्यादा भड़कने शुरू हो जाते हैं।' इसी के साथ उदयपुर में हुए कांग्रेस के चिंतन शिविर पर भी गहलोत ने बात की। जी दरअसल उन्होंने कहा कि 3 दिन का जो कैंप हुआ है, इसमें जो गंभीरता और रूचि दिखाई गई है, जो फैसले हुए हैं उससे लगता है कि ये नए सिरे से लागू होंगे और कांग्रेस एक मज़बूत पार्टी के रूप में और मज़बूत होगी।

त्रिपुरा के नए मुख्यमंत्री बने माणिक साहा, कहा- 'बीजेपी के विकास।।।'

शरद पवार के सपोर्ट में राज ठाकरे, जानिए क्या है मामला?

'मुन्नाभाई खुद को बालासाहेब ठाकरे समझता है', राज ठाकरे पर CM उद्धव का निशाना

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -