लालू के बाद खड़गे का भी फोन नहीं उठा रहे नितीश कुमार ! जयराम रमेश बोले- बहुत व्यस्त हैं, बात नहीं हो पा रही
लालू के बाद खड़गे का भी फोन नहीं उठा रहे नितीश कुमार ! जयराम रमेश बोले- बहुत व्यस्त हैं, बात नहीं हो पा रही
Share:

नई दिल्ली: कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने आज शनिवार को कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात करने की कई कोशिशें कीं, लेकिन वो बहुत व्यस्त हैं, इसलिए उनके बीच कोई बातचीत नहीं हो सकी। यह टिप्पणी तब आई है, जब नीतीश कुमार और उनकी पार्टी JDU के एक बार फिर भाजपा में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही हैं - जिसे 2024 के लोकसभा चुनावों से पहले INDIA गुट के लिए एक बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है। इससे पहले ये खबर आई थी कि, लालू यादव ने 5 बार नितीश कुमार को कॉल किया था, मगर वो फोन नहीं उठा रहे हैं। अब जयराम रमेश ने भी कहा है कि, नितीश खड़गे से भी बात नहीं कर रहे हैं। 

रमेश ने कहा कि, 'बिहार से कुछ बयान आ रहे हैं कि वहां नई मंत्रिपरिषद का गठन किया जाएगा। कांग्रेस छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को वरिष्ठ पर्यवेक्षक के रूप में बिहार भेज रही है। जहां तक मुझे पता है, बघेल जी आज रात पटना पहुंचेंगे।' उन्होंने कहा कि, “मैं आपको बता सकता हूं कि मल्लिकार्जुन खड़गे ने कई बार नीतीश कुमार से बात करने की कोशिश की है। लेकिन दोनों ही व्यस्त हैं। इसलिए उन्होंने अभी तक बात नहीं की है। जब मल्लिकार्जुन खड़गे ने उन्हें फोन किया तो नीतीश कुमार व्यस्त थे. जब नीतीश कुमार खड़गे जी को बुलाते हैं, तो खड़गे जी कुछ मीटिंग में होते हैं. मेरी बातों को तोड़-मरोड़ कर मत देखिए. नीतीश कुमार जी ने भी वापस फोन किया था।'' 

उन्होंने आगे कहा कि, "मैं लोगों को याद दिलाना चाहूंगा कि विपक्षी नेताओं की पहली बैठक 23 जून, 2023 को पटना में हुई थी। बिहार के मुख्यमंत्री बैठक के मेजबान थे। दूसरी बैठक बेंगलुरु में हुई, जहां इस गुट को अपना नाम INDIA मिला। उस बैठक में भी नीतीश कुमार की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण थी।'' कांग्रेस नेता ने कहा कि वह असत्यापित रिपोर्टों पर टिप्पणी नहीं करेंगे, लेकिन उन्होंने ये पुष्टि की है कि मल्लिकार्जुन खड़गे ने नीतीश कुमार तक पहुंचने की कोशिश की है, मगर बात नहीं हो सकी।  जयराम रमेश ने कहा कि, "इंडिया ब्लॉक को मजबूत करना हर पार्टी की जिम्मेदारी है और कांग्रेस इस दिशा में काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में सीट बंटवारे पर बातचीत सकारात्मक रूप से आगे बढ़ रही है। हमारी ओर से, अशोक गहलोत जी, अखिलेश यादव के साथ इस मुद्दे को संभाल रहे हैं। 

नीतीश कुमार को इंडिया ब्लॉक के वास्तुकारों में से एक बताते हुए, जयराम रमेश ने कहा कि इंडिया एक राष्ट्रीय स्तर का गठबंधन है। हालाँकि, प्रदेश स्तर पर दोनों पार्टियों में आए दिन तीखी नोकझोंक होती रहती है। रमेश ने कहा कि, "INDIA गुट के निर्माताओं में से एक नीतीश कुमार हैं, सह-आर्किटेक्ट ममता बनर्जी हैं। वे जानते हैं कि यह एक राष्ट्रीय गठबंधन है और स्थानीय मुद्दों को राष्ट्रीय मुद्दों पर प्राथमिकता नहीं दी जाएगी। कांग्रेस और वामपंथियों के बीच हर मिनट गर्म शब्दों का आदान-प्रदान होता है, फिर भी वामपंथी INDIA ब्लॉक का हिस्सा है।" 

बता दें कि, नीतीश कुमार को लेकर अटकलें शुरू होने से पहले, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा की थी कि उनकी पार्टी 2024 के लोकसभा चुनाव में अकेले उतरेगी। जयराम रमेश ने इसे INDIA गुट का बिखराव कहने से इनकार किया और कहा कि गठबंधन केवल लोकतांत्रिक साख दिखा रहा है, क्योंकि लोग अपने विचार व्यक्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा, ''भाजपा यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश कर रही है कि छोटी-मोटी गड़बड़ी हो। लेकिन मैं कहूंगा कि बिहार और पश्चिम बंगाल दोनों में आशा है। हाँ, प्रकाशिकी बेहतर हो सकती थी; स्थिति बेहतर हो सकती थी। यह INDIA गुट की छवि के लिए अच्छा नहीं है, लेकिन मैं कहूंगा कि स्थिति नियंत्रण में है।''

अब ड्रोन से अस्पतालों तक पहुंचेगा ब्लड ! AIIMS भुवनेश्वर ने सफलतापूर्वक किया प्रयोग

670 रुपए में राहुल गांधी के साइन वाली टीशर्ट ! चंदे के बदले में क्या दे रही कांग्रेस, अब तक कितने करोड़ मिले ?

'मार्च तक टाइम नहीं...', ED के समन पर बोले CM हेमंत सोरेन

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -