सावधान! भारतीय खिलाड़ियों की बढ़ सकती है परेशानी, छोड़ना होगा अपने मोबाइल भी

कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से क्रिकेट पूरी तरह थम गया है, लॉकडाउन के चलते सभी खिलाड़ी अपने घर पर आराम कर रहे हैं. टीम इंडिया के खिलाड़ी भी घर हैं लेकिन ये देखा गया है कि वो लॉकडाउन के समय से ही काफी ज्यादा सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं. टीम इंडिया के पूर्व फिटनेस ट्रेनर शंकर बसु (Shankar Basu) ने भारतीय खिलाड़ियों को मोबाइल और दूसरे गैजेट्स से दूर रहने की सलाह दी है. उनका मानना है कि इसका बुरा असर खिलाड़ियों की फिटनेस पर पड़ सकता है. बसु 2015 से 2019 के बीच भारतीय टीम के साथ थे. उन्होंने तेज गेंदबाजों जसप्रीत बुमराह, ईशांत शर्मा, , उमेश यादव और मोहम्मद शमी के साथ काफी काम किया है. स्क्रीन टाइम कम करें खिलाड़ी

शंकर बसु (Shankar Basu) ने टीम इंडिया के खिलाड़ियों को स्क्रीन टाइम कम से कम रखने की सलाह दी. स्क्रीन टाइम का अर्थ होता है टीवी, मोबाइल, लैपटॉप जैसी चीजों पर समय बिताना. भारतीय खिलाड़ी काफी ज्यादा सोशल मीडिया पर एक्टिव हैं, करने के लिए कुछ और नहीं है तो मुमकिन है कि वो सोशल मीडिया के अलावा ऑनलाइन मूवीज और टीवी देखकर टाइम पास कर रहे होंगे लेकिन शंकर बसु ने इसे उनकी फिटनेस के लिए घातक बताया है. उन्होंने खिलाड़ियों को सलाह देते हुए कहा, 'दिन भर लेटे रहना और चैनल बदलते रहना सही नहीं होगा. इससे दर्द को न्यौता मिलेगा. अपनी नींद का समय तय करें और उसके अनुसार दिनचर्या तय करें.'

आईपीएल टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर से जुड़े बसु (Shankar Basu) ने कहा, 'मौजूदा हालात में बल्लेबाज फिर भी काम चला लेंगे लेकिन गेंदबाजों के लिये मुश्किल होगी. वे अपनी तरफ से पूरा प्रयास करेंगे लेकिन फिटनेस बनाये रख पाना काफी कठिन चुनौती है.' उन्होंने कहा कि चुनौती क्रिकेट बहाल होने पर मैच फिटनेस बनाये रखने की होगी. उन्होंने कहा, 'सामान्य हालात होने पर मैच शुरू होंगे और ऐसे में अचानक अभ्यास का दबाव बनेगा. तेज रफ्तार से फिर गेंदबाजी करना तेज गेंदबाजों के लिये काफी जोखिमपूर्ण होगा.' बसु (Shankar Basu) ने कहा कि आजकल हर भारतीय क्रिकेटर फिटनेस को काफी गंभीरता से ले रहा है तो दिक्कत नहीं होगी. उन्होंने कहा, 'यह तारीफ के काबिल है कि सभी अपनी फिटनेस पर खुद ध्यान दे रहे हैं . सभी के पास घर में जिम है और वे दमखम पर काम कर रहे हैं, लेकिन यह नहीं कह सकते कि अनुकूलन पर कितना काम करने की जरूरत है.' बता दें शंकर बसु ही वो शख्स हैं जिन्हें विराट कोहली अपनी फिटनेस का श्रेय देते हैं. विराट कोहली कई इंटरव्यू में शंकर बसु की तारीफ कर चुके हैं. शंकर बसु की ट्रेनिंग के वजह से ही आज विराट कोहली इतने फिट हैं. यही नहीं भारतीय टीम के तेज गेंदबाजों की रफ्तार बढ़ाने में भी बसु का हाथ है. 

इस खिताब को पाने के बाद Carlos Brathwaite महसूस करते है यूनिवर्स बॉस जैसा

विश्वनाथन आनंद समेत इन खिलाड़ियों ने भी शुरू किया ऑनलाइन शतरंज

गोल्फ कैडीज के सामने कोरोना बना संकट, सैकड़ों प्रवासी की दिहाड़ी दाव पर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -