पठानकोट हमले के दोषियों को सजा मिलनी चाहिएः कार्टर

नई दिल्ली : मंगलवार को अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के बीच मुलाकात हुई। दोनों देशों के बीच रणनीतिक साझेदारी और सैन्य सहयोग को बढ़ाने पर चर्चा हुई। इस बैठक के बाद दोनों ने संयुक्त संवाददाता सम्मलेन को संबोधित किया। इस दौरान कार्टर ने केरल के पुतिंगल में हुए हादसे पर शोक जताया। आगे कार्टर ने कहा कि अमेरिका हमेशा आतंकवाद के मुद्दे पर भारत के साथ है।

कार्टर ने पठानकोट हमले के दोषियों को सजा दिए जाने की बात को भी स्वीकारा। अमेरिकी रक्षा सचिव ऐश्टन कार्टर ने पिछले दिनों पठानकोट हमले के मास्टरमाइंड मसूद अजहर को अंतराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने की भारत की मांग और चीन द्वारा वीटो पावर इस्तेमाल कर उसे निरस्त करने की घटना पर कहा कि अमेरिका भारत में किसी भी जगह हुई आतंकी घटना की निंदा करता है।

पर्रिकर ने अपने संबोधन में कहा कि अमेरिकी रक्षा सचिव का भारत दौरा दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय सहयोग को बढ़ाने के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है। भारत और अमेरिका के बीच रक्षा सहयोग को आधार स्तंभ बताते हुए पर्रिकर ने कहा कि दोनों देशों के बीच मजबूत साझेदारी एशिया समेत पूरी दुनिया में शांति, स्थिरता और विकास को बढ़ावा देगी।

रक्षा मंत्री ने अमेरिकी रक्षा सचिव के सामने अमेरिका द्वारा पाकिस्तान को एफ-16 लडाकू विमान बेचने पर भी नाराजगी जताई है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -