RBI नहीं बदल रहा पुराने नोट, ठगा हुआ महसूस कर रही जनता

नई दिल्ली/ पटना : नोटबन्दी के बाद सरकार ने वादा किया था कि आप 30 दिसंबर के बाद भी अपने पांच सौ और एक हजार के पुराने नोट RBI दफ्तर जाकर बदलवा सकते हैं. रिजर्व बैंक के दफ्तर में ये सुविधा दी जानी थी, लेकिन ऐसा हो नहीं रहा है. लोग रिजर्व बैंक के दफ्तर में पुराने नोट बदलवाने जा तो रहे हैं, लेकिन रुपए नही बदले जा रहे है. इससे जनता अपने आपको ठगा हुआ महसूस कर रही है.

गौरतलब है कि नोटबन्दी की समय सीमा 30 दिसंबर को खत्म होने के बाद जो लोग किन्हीं कारणों से 500 और 1000 के पुराने नोट बैंक में जमा नहीं कर पाए वो जब आरबीआई के स्थानीय कार्यालय में रुपए जमा करने गए तो रुपए जमा करने से न केवल  मना कर दिया गया, बल्कि कहीं- कहीं तो ऑफिस में घुसने ही नहीं दिया गया. यह हालात सभी राज्यों के हैं.

मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली में रिजर्व बैंक के दफ्तर के बाहर खड़े सुरक्षा अधिकारी ने लोगों से कहा है कि यहां पुराने नोट नहीं बदले जाएंगे. बिहार की राजधानी पटना के आरबीआई दफ्तर पहुंचे लोगों को बैरंग वापस भेज दिया गया.पांच सौ और एक हजार के पुराने नोट बदलवाने भोपाल में आरबीआई दफ्तर पहुंचे लोग भी निराश लौट रहे हैं.दिल्ली में गाजियाबाद की एक महिला शैल कुमारी ने बताया कि बर्तन मांजकर जमा किये 26 हजार जमा करने आई थी.लेकिन जमा नहीं कर रहे हैं, वहीं सोनीपत के राजेश चौहान को घर बदलने के दौरान माँ की संदूक से 5 हजार के पुराने नोट मिले जिन्हें बदलवाने आये थे लेकिन उन्हें दफ्तर में अंदर घुसने भी नहीं दिया गया.पटना में आरबीआई के दफ्तर में एक सर्कुलर का हवाला देकर लोगों को वापस भेजा जा रहा है.

हालांकि दिल्ली में आरबीआई दफ्तर में पासपोर्ट दिखाकर कुछ लोगों को जाने दिया गया. ये वो लोग हैं जो नोटबंदी के बाद से अब तक देश से बाहर थे. उन्हें भी अपना पासपोर्ट दिखाना पड़ रहा है. एनआरआई के भी पैसे यहां बदले नहीं जायेंगे, बल्कि एक फॉर्म भरकर यहां से वो जायेंगे उसके बाद उन्हें भी अपने अकाउंट में जमा करना होगा. बता दें कि8 नवंबर को पीएम ने कहा था कि 30 दिसंबर के बाद रिजर्व बैंक जाकर लोग अपने पुराने नोट जमा कर सकते हैं. लेकिन लोग अब ठगा हुआ महसूस कर रहे हैं.

वी आचार्य बने RBI के नए डिप्टी गवर्नर 

नए साल में राहत : RBI ने 1 जनवरी से...

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -