जानिए शादी से पहले हल्दी से जुडी कुछ ज़रूरी बाते

हमारे हिंदू धर्म में शादी से पहले दूल्हा दुल्हन को हल्दी लगाने का रिवाज पुराने समय से चला आ रहा है . इसके  अलावा पुराने समय से ही एक नियम और चला आ रहा है की दूल्हा या दुल्हन को कभी भी हल्दी लगाने के बाद  घर  के बाहर  निकलना नहीं  चाहिए और ना ही उसे कभी अकेले कही जाना चाहिए . ऐसा  करने  से  उन  पर  बुरी आत्माओं का साया पड़ सकता है. आइये जानते है क्यों नहीं निकलते है हल्दी लगाने के बाद घर से बाहर ...

हल्दी  में ऐसे कई औषधीय गुण मौजूद होते है जो स्किन की सुंदरता को निखारने का काम करते है जिसके कारण शादी से पहले दूल्हा दुल्हन को हल्दी लगाई जाती है , जिससे शादी के दिन उनका रूप और भी निखार जाये . पर पुराने  ज़माने से ही ऐसा माना जाता है की हल्दी लगाए के बाद दूल्हा या दुल्हन को घर के बाहर नहीं निकलना चाहिए . शास्त्रों में बताया गया है की हल्दी में एक खास तरह की गंध मौजूद होती है. जो  वातावरण में उपस्थित नकारात्मक और सकारात्मक ऊर्जा को अपनी ओर खींचने का काम करती है , हल्दी की गंध से नकारात्मक उर्जाए उस व्यक्ति की तरफ तेजी से आकर्षित होती है. जिससे व्यक्ति मानसिक या शारीरिक रुप से कमज़ोर हो सकता है जिससे उसकी सोच में नेगेटीविटी आ सकती है.

 

पूजा में ज़रूर करे इन नियमो का पालन

शनिदेव और हनुमानजी की पूजा से होती है सौभाग्य की प्राप्ति

धन की कमी दूर करती है चीजे

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -