2040 में कारों की बिक्री में आएगी कमी

2040 में कारों की बिक्री में आएगी कमी

मंगलवार को जारी एक अध्ययन के मुताबिक आने वाले दो सालों में अन्तराष्ट्रीय बाजार में कारों की बिक्री में गिरावट आएगी, लेकिन तेल की मांग बढ़ती रहेगी. क्योंकि ग्राहकों ने मांग की है कि उन्हें उबेर जैसे वाहनों की अधिक सुविधा मिले.

IHS मार्किट द्वारा किए गए एक अध्ययन में सामने आया कि दुनिया भर में बिकने वाले 80 प्रतिशत से अधिक वाहन 2040 में भी पेट्रोलियम इंधन वाला दहन इंजन का उपयोग करेंगे. संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोप, चीन और भारत में वार्षिक वाहनों की बिक्री अगले 23 वर्षों में घटकर 5 करोड़ हो जाएगी, क्योंकि कुल दूरी, 65 प्रतिशत बढ़कर करीब 11 अरब मील प्रति वर्ष हो गई है. वर्तमान में उन क्षेत्रों में करीब 80 मिलियन वाहन बेचे जाते हैं.

बता दे कि 2040 में कम कारें बेची जाएंगी. पेट्रोलियम की मांग केवल विशेष रूप से गैर-परिवहन उपयोग के लिए बढ़ने की संभावना है, वर्तमान पेट्रोलियम की मांग 98 मिलियन बैरल प्रति दिन से बढ़कर115 मिलियन बैरल प्रति दिन हो सकती है. भविष्य में पेट्रोलियम से चलने वाले वाहनों में तेजी से कमी आएगी केवल वाहनों के आलावा ही पेट्रोलियम का उपयोग हो सकता है.

CB shine की बिक्री में आयी तेजी

हीरो बनाएगा एक अलग खुदरा रणनीति

रोल्स-रॉयस कंपनी ने किया इलेक्ट्रिक फैंटम बनाने का समर्थन

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App