कोनरॉड संगमा बने मेघालय के नए मुख्यमंत्री

कोनरॉड संगमा बने मेघालय के नए मुख्यमंत्री

शिलांग : आज एनपीपी के कोनरॉड संगमा ने मेघालय के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली . उनके साथ 11 मंत्रियो ने भी पद और गोपनीयता की शपथ ली. एनपीपी की अगुवाई में बन रही सरकार में बीजेपी भी भागीदार है. संगमा करीब सुबह 10:40 बजे शपथ ग्रहण की. शपथ ग्रहण समारोह राजधानी शिलांग मे आयोजित किया गया, जिसमे गृह मंत्री राजनाथ सिंह और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे.

3 मार्च को आए नतीजों में 60 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के खाते में 21 , एनपीपी के खाते में 19 और बीजेपी के खाते में दो सीटें आई थीं. वहीं, यूनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी के छह विधायक और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के दो विधायक चुने गए थे. मेघालय में कांग्रेस को सबसे ज्यादा 21 सीटें मिली हैं, लेकिन वह 60 सदस्यों वाली विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए जरूरी आंकड़े जुटाने से 10 सीट पीछे रह गई. 


कौन हैं कोनरॉड  संगमा?
मेघालय में मजबूत नेता के रूप में सामने आए कोनराड संगमा राज्य में आठवीं विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रहे हैं. उन्होंने नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के विधायक के रूप में सदन में विपक्ष का नेतृत्व किया. 27 जनवरी 1978 को जन्मे कोनराड संगमा वेस्ट गारो हिल्स जिले के सेलसेल्ला निर्वाचन क्षेत्र का विधानसभा में प्रतिनिधित्व किया. इससे पहले कोनरॉड  संगमा 2008 में मेघालय के सबसे युवा वित्त मंत्री बने थे और अभी वह मेघालय की तुरा सीट से लोकसभा सदस्य हैं.

अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद कोनराड संगमा 1990 दशक के अंतिम दिनों में पिता पीए संगमा के प्रचार प्रबंधक के तौर पर अपने करियर की शुरुआत की. उस समय पीए संगमा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) में थे. बता दें कि राकांपा से विवाद के बाद अलग होकर पीए संगमा ने जुलाई 2012 में नेशनल पीपुल्स पार्टी का गठन किया था. मेघालय विधानसभा में 2009-2013 तक कोनरॉड संगमा विपक्ष के नेता रहे. वह अभी तुरा सीट से लोकसभा सांसद हैं, जो उनके पिता पीए संगमा के निधन के बाद खाली हुई थी.

मेघालय में सत्ता वापसी के लिए कांग्रेस की जद्दोज़हद

चुनाव से पहले मेघालय में प्रत्याशी की हत्या

 

 

?