कोरोना : स्वास्थ्य कर्मियों का बहिष्कार करने वालों का ऐसा हाल करने वाली है सीएम ममता बनर्जी

कोरोना वायरस की चपेट में बंगाल भी आ चुका है. राज्य में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ रही है. लेकिन सरकार ने मरीजों का इलाज करने वाले स्वास्थ्य कर्मियों का बहिष्कार करने वालों को गिरफ्तार करने की बात कही है. यह बात बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने स्वंय कही है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी की रोकथाम के लिए उनकी सरकार पूरी कोशिश कर रही है.

केरल : राज्य में कोरोना से एक और मौत, देशभर में इतने लोगों ने गवाई जान

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि दिनरात डॉक्टर, नर्स, स्वास्थ्य कर्मी लगे हुए हैं. ऐसे में उन स्वास्थ्य कर्मियों का बहिष्कार करने या ऐसा प्रयास करने वाले किसी भी व्यक्ति को तत्काल गिरफ्तार किया जाएगा. कानून अपना काम करेगा. स्वास्थ्य कर्मी लोगों को बचाने के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा रहे हैं.

कोरोना के प्रकोप में इस पेय पदार्थ की कमी भुगत रहे मरीज

इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में सरकार का साथ दे रहे स्वास्थ्य कर्मियों, सेनिटेशन कर्मियों और पुलिस कर्मियों का पूरा ख्याल रखा जाएगा. ज्ञात हो कि सोमवार को ही सुश्री बनर्जी ने कहा था कि शुरुआत में हमने डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों के लिए पांच लाख रुपये के बीमे की घोषणा की थी. अब इस राशि को बढ़ाकर दस लाख कर दिया गया है. उन्होंने कहा, इसके अलावा हमने सेनिटेशन और अन्य संबंधित कर्मियों को भी यह सुविधा देने का निर्णय लिया है. पुलिस कर्मियों को भी इस बीमा योजना का लाभ मिलेगा.

NIV की बड़ी कामयाबी, कोरोना वायरस को अलग करने में हासिल की सफलता

अगर इन चीजों को किया अपने आहार में शामिल तो, कोरोना की हो जाएगी छुट्टी

कोरोना के बाद चीन में आग का प्रकोप, 19 लोगों की झुलसकर मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -