मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ मे 10 हजार करोड़ के हवाला कारोबार का भांडा फूटा

Feb 11 2016 08:04 AM
मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ मे 10 हजार करोड़ के हवाला कारोबार का भांडा फूटा

रायपुर/भोपाल: देश मे बढ़ता भ्रष्टाचार कम होने की बजाय उग्र रूप से बढ़ रहा है इस कथन को कल हुए आयकर विभाग के छापेमार कार्यक्रम ने बिल्कुल सत्य साबित कर दिया है। और इन दो राज्यो मे चल रहे हवाला कारोबार का एक बड़ा खुलासा हुआ है जिसके चलते लगभग 10 हजार करोड़ रूपय का कालाधन इस कारोबार मे मिलने के कुछ साक्ष्य मिले है।

रेणुका मल्टी स्टेट क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसाइटी पर आयकर विभाग की छापामारी के दौरान रायपुर इंदौर, सेंधवा और भोपाल से डेढ़ करोड़ रुपए नकद एवं दस्तावेज जब्त किए हैं साथ ही विभाग की समिति ने कार्यालयों में ऐसे बेनामी खाते पकड़े जो इस कारोबार को चलाने मे अहम भूमिका निभा रहे थे आयकर विभाग ने अभी तक ऐसे ही 28 बेनाम खाते पकड़ लिए है इस छापामारी के बाद ऐसे कई खाते जो राष्ट्रीयकृत बैंकों मे है उनका भी पता चल गया है इस प्रकार आयकर विभाग की यह एक बड़ी सफलता मानी जा सकती है।

रायपुर के चीफ कमिश्नर केसी घुमरिया ने अपने वयान मे कहा की इस कालाबाजारी धंधे मे लगभग 10 हजार करोड़ रूपय होने की आशंका है वही चीफ कमिश्नर का कहना है कि इंदौर में 50 एवं रायपुर में 28 खातों के बारे मे जानकारी मिल गई साथ ही कैश मेमो से हवाला मे मौजूद धन की पुष्टि भी हुई है। आयकर विभाग का यह भी अनुमान है की कोई बड़ा गिरोह ही यहा इस धंधे को संचालित कर रहा है इसी के चलते भोपाल के जुमेरात क्षेत्र मे भी छापा मारा गया यहा से कई संदिग्ध फाइले बरामद की गई।

इसके अलावा 50 लाखए सेंधवा से 25 लाख और रायपुर कार्यालय से करीब 75 लाख रुपए इस समिति ने नगद बरामद किए साथ ही इस कारोबार से संबन्धित दो राज और उजागर हो गए है जिनमे से पहला यह की इस हवाला कारोबार को चलाने के लिए बड़े कारोबारियों ने अपने नौकरों, रिश्तेदारों आदि के नाम से भी खाते खुलवा रखे है तथा इनमे रोज नकद में दो-तीन करोड़ रुपए जमा कर डीडी या चेक दूसरे शहरों में भेजा जाता था अभी तक इस प्रकार के लगभग 100 खातो के बारे मे पता लगा लिया गया है।

इस कार्यवाही के बाद अब विभाग रेणुका मल्टी स्टेट क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटी के संचालक प्रशांत चांडक से पूछताछ करेगी उम्मीद है कि जल्दी ही एक बड़े हवाले कारोबार का भांडा फूटेगा ओर एक बहुत बड़ा खुलासा हो सकता है।