YouTube ने की अब तक की सबसे बड़ी घोषणा, Shorts क्रिएटर्स को मिलेगा इतना रिवेन्यू

पिछले कुछ महीनों में YouTube और TikTok के बीच मुकाबला और भी ज्यादा कड़ा हो चुका है। कई दर्शकों और क्रिएटर्स के टिकटॉक की ओर रुख करने के साथ, YouTube एक नई रणनीति लेकर आ चुके है। Google के स्वामित्व वाली स्ट्रीमिंग सेवा ने मंगलवार को कहा कि वह अपने वीडियो फीचर - शॉर्ट्स से जेनरेट होने वाले कुल रेवेन्यू का 45 प्रतिशत प्लेटफॉर्म के वीडियो निर्माता को देने वाले है। 

कंपनी के लिए मुख्य वेबसाइट पर बनाए गए कंटेंट के लिए रेवेन्यू का 55 प्रतिशत भाग शेयर  करना मानक अभ्यास है और इस डेवलेपमेंट के साथ, इसके सभी प्लेटफार्मों पर समानता होने वाली है। जानकारी के मुताबिक, इस कदम से $ 1 बिलियन के फंड का मुकाबला करने की उम्मीद है, जो कि टिकटॉक के पास क्रिएटर्स को भुगतान भी करने वाले है। इस वर्ष की शुरुआत में, YouTube ने उन क्रिएटर्स के लिए $ 100 मिलियन का फंड भी जारी कर दिया है, जो शॉर्ट्स फीचर पर वीडियो बनाएंगे।  45 प्रतिशत हिस्सा पहले से ही स्थापित योजना के अतिरिक्त है। इतना ही नहीं बीते वर्ष YouTube के विज्ञापन रेवेन्यू में लगभग 9 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और आधिकारिक आंकड़ा लगभग 14.2 बिलियन डॉलर रहा।

जब यूजर्स के बारें में बात की जाती है, तो टिक टॉक स्पेस में में एक बड़ी प्रतिस्पर्धा बन गया है। बहुत छोटे वीडियो और वायरल डांस कंटेंट के लिए मशहूर इस एप्लिकेशन के पहले से ही 1 बिलियन यूजर्स हैं। बता दें कि शॉर्ट्स फीचर को एक सीधी प्रतिस्पर्धा के रूप में पेश  किया गया था और इन इस स्ट्रैटेजी को बड़े पुश के तौर पर देखा जाने वाला है। 

बता दें कि YouTube को ग्राहक बहुत पसंद करते हैं। इस पर रीच भी बहुत अच्छी है और क्रिएटर्स को ज्यादा से ज्यादा अपने से जोड़ने के लिए प्लैटफॉर्म अपने आप को अपडेट करता रहता है और इस बार TikTok को टक्कर देने के लिए कंपनी ने ये तरीका भी निकाल लिया है। 

ख़त्म हुआ इंतज़ार ! 1 अक्टूबर से शुरू होगी 5G सेवाएं, पीएम मोदी करेंगे लॉन्च

Airtel ने अपने यूजर्स को दी गुड न्यूज़, पेश किया शानदार प्लान

दिवाली पर लोगों का दिल जीतने आ रहा है ये शानदार स्मार्टफोन

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -