महिला हॉकी : जूनियर एशिया कप में जीत का आगाज चाहेगा भारत

Sep 04 2015 07:12 PM
महिला हॉकी : जूनियर एशिया कप में जीत का आगाज चाहेगा भारत

चांगझोंग : भारतीय महिला हॉकी जूनियर टीम पूरे एक महीने की तैयारी के बाद शनिवार को जूनियर एशिया कप में उत्तर कोरिया के खिलाफ विजयी आगाज करने के लिए तैयार है। भारतीय टीम को पूल-A में रखा गया है और उत्तर कोरिया के बाद उसे चीन, मलेशिया और सिंगापुर से भिड़ना है। यह टूर्नामेंट अगले वर्ष होने वाले जूनियर विश्व कप के लिए क्वालीफाइंग टूर्नामेंट भी है। भारतीय टीम की कमान स्टार फॉरवर्ड खिलाड़ी रानी रामपाल संभाल रही हैं, जबकि अनूपा बारला, पूनम बारला, नवनीत कौर और सोनिका से टीम को अधिक से अधिक गोल की उम्मीद रहेगी।

हाल ही में हुए वोल्वो इन्विटेशनल अंडर-21 टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने तीसरा स्थान हासिल किया, जिसमें कप्तान रानी रामपाल का योगदान अहम रहा। कप्तान ने कहा, "समय आ गया है, जब हमें मैदान पर अपनी रणनीतियों को लागू करना होगा और पहले मैच में अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा। लड़कियों ने अच्छी तैयारी की है और उत्तर कोरिया के खिलाफ होने वाले मुकाबले के लिए आत्मविश्वास से भरी हूई हैं।" उन्होंने कहा, "हमें उनकी खेलने की शैली के बारे में पता नहीं है और, जिससे हमारी चुनौती और बढ़ गई है। हम आक्रामक शुरुआत करना चाहेंगे और कोशिश करेंगे कि पहला गोल हमारी ओर से हो। हमारी रणनीति गेंद पर अधिक से अधिक समय तक कब्जा बनाए रखना और साथ ही विपक्षी टीम पर आक्रमण के जरिए दबाव बनाए रखना होगा।"

उप-कप्तान नवजोत कौर और लिली चानू पर मिडफील्ड की जिम्मेदारी होगी। लिलिमा मिंज और रेणुका भी उन्हें मिडफील्ड में मदद करेंगी। डिफेंस लाइन की जिम्मेदारी मुख्यत: अनुभवी दीप ग्रेस एक्का, नमिता टोप्पो और पेनाल्टी कॉर्नर विशेषज्ञ जसप्रीत कौर पर होगी। भारत की उत्तर कोरिया से यह पहली भिड़ंत होगी। भारतीय टीम को मुख्य कोच माथियास आहरेंस ने कहा, "हमने उन्हें खेलते हुए कभी नहीं देखा, लेकिन हमारी टीम उनसे ज्यादा मजबूत और अच्छी है और अनुभव भी हमारे पास ज्यादा है। लेकिन हम अपने प्रतिद्वंद्वी को कम करके नहीं आंक रहे। हमें उनकी हर गतिविधि पर नजर रखनी होगी और उसके अनुसार खेलना होगा।"