कांग्रेस ने जब शिवसेना के साथ गठबंधन किया तो उसकी विचारधारा को क्या हो गया था: जितिन प्रसाद

कांग्रेस के पूर्व नेता जितिन प्रसाद ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) ज्वाइन कर ली है। अब इन सभी के बीच अपने फैसले का बचाव करते हुए उन्होंने अपने पूर्व सहयोगी कपिल सिब्बल पर निशाना साधा है। जी दरअसल जितिन बीते बुधवार को भाजपा में शामिल हुए। वही इसके बाद कपिल सिब्बल ने उनके भाजपा में शामिल होने को 'प्रसाद की राजनीति' बताया। जी दरअसल कांग्रेस नेता ने कहा कि 'लोग विचारधारा से ज्यादा अपने हित को तरजीह' दे रहे हैं।' अब इसी बीच जितिन ने कांग्रेस की विचारधारा पर सवाल उठाए हैं।

हाल ही में एक मशहूर वेबसाइट से बात करते हुए जितिन प्रसाद ने कहा, ''कपिल सिब्बल वरिष्ठ नेता हैं। एक ही विचारधारा है वह राष्ट्रीय हित है। कांग्रेस ने जब शिवसेना के साथ गठबंधन किया तो उसकी विचारधारा को क्या हो गया था? बंगाल में वह लेफ्ट के साथ गई, उस समय उसकी विचारधारा कहां थी। इसी समय वह केरल में लेफ्ट के खिलाफ लड़ रही थी। मेरे जैसे छोटे व्यक्ति के बारे में बयान देने से कांग्रेस की किस्मत नहीं बदल जाएगी।''

आप सभी को हम यह भी बता दें कि बीते दिनों ही कपिल सिब्बल ने कहा था कि, 'अगर किसी मोड़ पर वे (नेतृत्व) मुझसे कहते हैं कि अब मेरी जरूरत नहीं है, तब मैं फैसला करूंगा कि मुझे क्या करना है। लेकिन कभी भाजपा में नहीं जाऊंगा।।।यह मेरी लाश पर ही होगा।' आप सभी को बता दें कि सिब्बल और जितिन 'ग्रुप-23' का हिस्सा हैं। इस समूह ने पिछले साल सोनिया गांधी को पत्र लिखकर नेतृत्व सहित कई मामलों में सुधार करने की मांग की।

अंतरराष्‍ट्रीय अदालत के आगे पाकिस्‍तान ने टेके अपने घुटने, अब भारत हो सकेगी कुलभूषण जाधव की वापसी?

अपनी शादी में यामी गौतम ने पहनी थी मां की 33 साल पुरानी सिल्क साड़ी

इस माह से मॉडर्ना ने करेगी बूस्टर शॉट बेचने की पेशकश, क्षतिपूर्ति मांग को लेकर की जा रही है बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -