मानसून आने के बाद भी 'सूखा' रहेगा उत्तर प्रदेश !

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 29 जून से 1 जुलाई के बीच मानसून की एंट्री होने वाली है। मानसून आने के बाद भी राज्य के कई जिलों में जुलाई के महीने में बारिश की काफी कम संभावना है। कुछ जिलों में तो सिर्फ 11 दिन ही बारिश होने का अनुमान जताया गया है। मानसून आने के बाद राज्य में जुलाई, अगस्त, सितंबर में जमकर बारिश होती है। इस बार जुलाई में बारिश कम होने का अनुमान है। 14 जिलों में जुलाई में 21 दिन बारिश नहीं होने की भविष्यवाणी की गई हैं।

मौसम विभाग के आंकड़ों पर नजर डालें तो पश्चिमी यूपी के शामली, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, सहारनपुर, मेरठ, अलीगढ़, मथुरा, बुलंदशहर, आगरा, मुज्जफरपुर सहित 14 जिलों में 19 से 21 दिन ड्राई डे रहेंगे। जुलाई में 19 से 21 दिनों तक वर्षा नहीं होगी। शेष 10 दिनों में बारिश होगी। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, मानसून में बारिश के दिन घट रहे हैं। क्लाइमेट चेंज इसका बड़ा कारण है। वहीं पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, बहराइच, श्रावस्ती, गोरखपुर, संतकबीरनगर, बस्ती, सुल्तानपुर, वाराणसी, सोनभद्र, झांसी, बांदा और ललितपुर में 15 से 16 दिनों तक बारिश की संभावना कम रहेगी। बाकी दिनों में अच्छी बारिश का अनुमान है।

मौसम विभाग के अनुसार, राज्य के अन्य जिले जैसे कानपुर, लखनऊ, अयोध्या, कानपुर देहात, एटा, हाथरस, कासगंज, इटावा, औरैया, फर्रुखाबाद जैसे जिलों में सामान्य बारिश होने का अनुमान जताया गया है। यहां सामान्य 17 से 19 दिनों तक बारिश नहीं होगी। इसके अलावा 11 से 12 दिनों तक बारिश होने की पूरी संभावना हैं।

'जब मुस्लिम भीड़ ने जिन्दा जला डाले थे 59 हिन्दू..', मीडिया ने दिखाया था गजब का 'दोगलापन'

सरकार ने लिए ऐतिहासिक फैसला ,सभी कार निर्माता को दर्शाना होगा यह सिस्टम

होमगॉर्ड्स के वेतन को लेकर योगी सरकार ने किया बड़ा फैसला, विभाग को दिया बजट

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -