6 दिसंबर को भारत आ रहे राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, जानिए क्यों?

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) कल यानी 6 दिसंबर को भारत आने वाले हैं। मिली जानकारी के तहत उनकी यात्रा से पहले राष्ट्रपति के सहयोगी यूरी उशाकोव (Yuri Ushakov) ने मॉस्को और दिल्ली विभिन्न क्षेत्रों में 10 द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर करने की घोषणा की है। इसमें कुछ सेमी-कांफिडेंशियल है। एक रूसी समाचार एजेंसी TASS का कहना है कि, पुतिन और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच चर्चा के बाद, उशाकोव ने कहा, "लगभग 10 द्विपक्षीय समझौतों पर हस्ताक्षर किए जाएंगे, जो काफी महत्वपूर्ण हैं और कुछ सेमी-कांफिडेंशियल है। उनपर अभी काम जारी है। हमें विश्वास है कि यात्रा के दौरान समझौतों के पैकेज पर हस्ताक्षर किए जाएंगे।”

इसी के साथ TASS का कहना है, उशाकोव ने समझौतों के नाम बताने से इनकार कर दिया है। इसके अलावा उन्होंने बताया कि उनपर अभी भी काम जारी है। विभिन्न क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग के विकास के लिए आवश्यक है। वहीं बीते शुक्रवार को यूरी उशाकोव ने कहा था कि, 'पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन के बीच "विशेष प्रारूप" कनेक्शन उन्हें जटिल और संवेदनशील विश्व समस्याओं पर चर्चा करने में सक्षम बनाता है।'

उशाकोव ने यह भी बताया कि 'कोविड-19 के प्रकोप के कारण प्रधानमंत्री मोदी और रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने वर्चुअल तरीके से एक-दूसरे से बात की। व्यक्तिगत रूप से मिलने से उन्हें विभिन्न विषयों को संबोधित करने में मदद मिलेगी, जिसमें सबसे चुनौतीपूर्ण और साथ ही सबसे संवेदनशील मुद्दे भी शामिल है।' आपको बता दें कि पुतिन वार्षिक भारत-रूस शिखर सम्मेलन के 21वें संस्करण में भाग लेने के लिए 6 दिसंबर को नई दिल्ली पहुंचेंगे। दिन की शुरुआत रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव के साथ-साथ रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु के बीच बैठक से होगी।

IIT गांधीनगर ने इन पदों पर निकाली भर्तियां, जल्द करें आवेदन

अजब-गजब! भूत ने डाली थी 12 लाख की डकैती, पूछताछ में हुआ हैरतअंगेज खुलासा

जैसलमेर में BSF स्थापना दिवस परेड में शामिल हुए अमित शाह, जल्द होगा रोड शो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -