27 जून के विष योग से बचने के लिए करें ये उपाय

Jun 19 2018 05:35 PM
27  जून के विष योग से बचने के लिए करें ये उपाय

आगामी 27 जून 2018, बुधवार को सबसे अशुभ योग बनेगा. वस्तुतः इस दिन चन्द्रमा धनु राशि में प्रवेश करेगा जिसके कारण से विष योग बनेगा. आपको जानकारी दे दें कि विष योग तब बनता है जब शनि और चन्द्रमा धनु राशि में एक साथ होते हैं. कुंडली में विष योग शनि और चंद्रमा के तीसरे, सातवें या दसवें घर में होने से बनता है . यह योग महीने में एक बार जरूर आता है, क्योंकि चन्द्रमा माह में एक बार जरूर शनि के साथ गोचर होते है.

विषयोग का प्रभाव : जिसकी कुंडली में यह विष योग बनता है वह व्यक्ति दुखी रहता है. विष योग के कारण व्यक्ति को मृत्यु, डर, मान-सम्मान खोने का डर और कर्ज का भी सताता रहता है.अभी शनि पहले से ही धनु राशि में गोचर है. इस विष योग का असर राशियों पर ऐसा रहेगा -अशुभ असर- वृषभ, कन्या, धनु और मकर राशि पर पड़ेगा.जबकि सामान्य असर- मिथुन, कर्क ,वृश्चिक और मीन राशि पर रहेगा. वहीं शुभ असर- मेष, सिंह, तुला और कुंभ राशि वालों पर पड़ेगा .

विष योग से बचने के उपाय : पीपल के वृक्ष पर में विष योग से बचने के लिए पीपल के वृक्ष में जल और नारियल चढ़ाना चाहिए. दूसरा उपाय यह है कि विष योग के प्रभाव को कम करने के लिए शनिवार के दिन सरसों का तेल, काली उड़द और तिल का दान करें और शनि मंदिर में जाकर तेल का दीपक जलाएं. साथ ही चंद्रमा को शांत करने ले लिए शिवलिंग पर जल और दूध चढ़ाने से विष योग का अशुभ प्रभाव दूर हो सकता है. इसके अलावा हनुमान मंदिर हनुमान जी को सिंदूर और चमेली का तेल चढ़ाने से भी लाभ होता है.

यह भी देखें

बिस्तर गन्दा छोड़ने से बढ़ता है राहु दोष

हल्दी के धार्मिक प्रयोग से होता है यह लाभ