हरीश रावत मेरे बड़े भाई, मांग सकता हूं 100 बार माफी: हरक सिंह

देहरादून: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी से हटाए गए पूर्व मंत्रिमंडल मंत्री हरक सिंह रावत आज फिर से कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं। हरक सिंह रावत के साथ उनकी बहू अनुकृति भी कांग्रेस में शामिल होगी। रावत अपनी बहू के साथ आज दिल्ली में पार्टी के बड़े नेताओं की उपस्थिति में कांग्रेस का हाथ थामेंगे। 

वहीं मंगलवार को हरक सिंह रावत ने पत्रकारों से कहा कि मैंने आज प्रातः कांग्रेस पार्टी के नेताओं से चर्चा की है। वह मुझे जल्द ही अपना फैसला बताएंगे तथा मैं उसी के आधार पर अपने फैसले लूंगा। उन्होंने कहा कि वह हरीश रावत मेरे बड़े भाई हैं। मैं उनसे सौ बार क्षमा मांग सकता है। मैं उत्तराखंड का विकास चाहता हूं। वही विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस में अब टिकटों का ऐलान हरक एपीसोड के पूरा होने के पश्चात् ही होगा। वहीं पार्टी की स्क्रीनिंग समिति ने फंसी हुई सीटों पर एक बार फिर मंथन मीटिंग कर पैनल तैयार कर लिए हैं, जिन्हें मंगलवार को केंद्रीय चुनाव समिति (सीईसी) को सौंपा जाएगा।

बता दे कि बीजेपी ने हरक सिंह रावत को 6 वर्ष के लिए निष्कासित कर दिया। सीएम पुष्कर सिंह धामी ने भी कड़ाई एवं तेजी दिखाते हुए हरक की कैबिनेट से छुट्टी कर दी थी। पार्टी सूत्रों के अनुसार, हरक सिंह रावत विधानसभा चुनाव में पार्टी से अपने परिवार के लिए तीन टिकट की मांग कर रहे थे। उन्हें केदारनाथ या कोटद्वार विधानसभा सीट से टिकट की पेशकश हो गई थी। किन्तु वह निरंतर दबाव बना रहे थे। सूत्रों के अनुसार, हरक ने कांग्रेस को 5 सीटें रिक्त रखने के लिए बोला है। वही अब भाजपा से हटाए जाने के बाद आज हरक सिंह कांग्रेस में शामिल हो सकते है।

कब्रिस्तान और मदरसों की बॉउंड्री बनवाएगी राजस्थान सरकार, CM गहलोत ने किए कई बड़े ऐलान

'लड़की हैं तो क्या, टिकट दे दें ..', लड़की हूँ लड़ सकती हूँ अभियान पर बोलीं कांग्रेस नेता शहला अहरारी

चरणजीत चन्नी ही होंगे कांग्रेस के CM फेस, जानिए सोनू सूद ने कैसे दिए संकेत, Video

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -