अमेरिकी ड्रोन हमले में अलकायदा के दो शीर्ष नेता के मारे जाने का दावा

वाशिंगटन -अफगानिस्तान में हुए अमेरिकी ड्रोन हमले में अलकायदा के दो शीर्ष नेताओं के मारे जाने का अमेरिका ने दावा किया है. दोनों में से एक अमेरिकी सेना पर खतरनाक हमले करने में शामिल था. यह जानकारी पेंटागन ने दी.

इस बारे में जानकारी देते हुए पेंटागन के प्रेस सचिव पीटर कुक ने बुधवार को बताते हुए दावा किया कि अमेरिकी सेना ने 23 अक्टूबर को कुनार प्रांत में फारुक अल-कतानी और बिलाल अल-उताबी को निशाना बनाया. ये दोनों अफगानिस्तान में अलकायदा के शीर्ष नेता हैं. अमेरिकी सेना का मानना है कि हमले में दोनों मारे गए हैं, लेकिन अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.अमेरिका अभी हमले की समीक्षा कर रहा है.

अलकायदा सदस्यों का उल्लेख करते हुए बताया गया है किअल-कतानी उत्तर पूर्वी अफगानिस्तान में अलकायदा के अमीर के रूप में सक्रिय रहकर अफगानिस्तान को फिर से अलकायदा का सुरक्षित ठिकाना बनाने में जुटा था. इसी तरह अल-उताबी इस काम में सहयोग कर रहा था.लंबे समय तक निगरानी के बाद अमेरिका ने अल-कतानी और अल-उताबी को निशाना बनाया. पीटर ने कहा यदि ये हमले सफल साबित होते हैं तो हमारे लिए खतरा कम हो जाएगा.

पाकिस्तान को अमेरिका ने चेताया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -