नींद मिलना है जरुरी, वरना हो सकती है ये बीमारियां

नींद मिलना है जरुरी, वरना हो सकती है ये बीमारियां

मानव शरीर में नींद प्रकृति की ओर से दिया गया है, निःशुल्क लेकिन बेहद कीमती उपहार है। वैसे यदि कहा जाए तो नींद सभी के लिए आवश्यक होती है, लेकिन बच्चों के स्वस्थ शारीरिक-मानसिक विकास में अच्छी नींद का महत्वपूर्ण योगदान होता है। नींद में उनके पाचन तंत्र, लिवर और किडनी जैसे खास अंगों को सही तरीके से काम करने का मौका मिलता है। तो रोगमुक्त शरीर और अच्छी स्मरण शक्ति के लिए बच्चों को हमेशा पर्याप्त नींद लेनी चाहिए। क्योकि बच्चो की बॉडी के लिए इसकी अधिक आवश्यकता होती है.

जरुरी है की हम कुछ बातो का ध्यान रखे जिस से बच्चो का विकास सही ढंग से हो सके. इसके लिए हमें ये तरीके अपनाने चाहिए, जैसे बच्चों का स्लीपिंग पैटर्न सुधारने के लिए डिनर जल्दी करें जिससे उन्हें सही समय पर सुलाना संभव हो, जरूरी है की नियम सबके लिए सामान हो,यदि बच्चे है तो बच्चो के लिए TV का और टीनएजर्स के लिए नेट सम्बन्धी उपकरणों के लिए,जैसे टीनएजर्स को योगाभ्यास के लिए मोटीवेट करें। इससे उन्हें अच्छी नींद आएगी।अगर बच्चे देर रात तक जागने का कहे तो उन्हें सिर्फ वीकेंड में ही ऐसा करने की इजाजत दें और संडे की रात उनसे जल्दी सोने के कहें।

और सबसे जरुरी है की घर का माहौल शांत रखें और बेडरूम की लाइट ऑफ कर दें। बच्चों को सुलाने के लिए आप जो भी समय निर्धारित करती हैं, उससे कम से कम आधा घंटा पहले उन्हें बेड पर ले जाएं क्योंकि लेटने के बाद वे थोड़ी देर तक पेरेंट्स से बातें करना चाहते हैं और नींद आने में भी थोड़ा समय लगता है. उनके लिए कोई एक प्रेयर फिक्स करें और सोने से पहले उन्हें अपने साथ वही दोहराने को कहें। इससे बच्चे के ब्रेन तक यह संदेश चला जाएगा कि अब सोने का सही समय हो गया है और उसे जल्दी नींद आ जाएगी। और यह चीज़ बच्चो और बाकी सबके के लिए मददगार साबित होगी।

कोरोना की जांच में लगने वाले समय को कम करने के लिए केन्द्र ने राज्यों को दिया सुझाव

पंजाब : कैबिनेट का बड़ा ऐलान, कई महत्वपूर्ण विभागों में रिक्त पदों पर होगी भर्ती

इन पोषक तत्वों को आहार में शामिल करके रह सकते है लम्बे समय तक स्वस्थ